Ravi Shastri: Cheteshwar Pujara should remain in Grade A of BCCI’s central contracts
चेतेश्वर पुजारा आईसीसी टेस्ट रैंकिंग में दूसरे स्थान पर हैं © AFP

भारतीय टीम के मुख्य कोच रवि शास्त्री को लगता है कि बीसीसीआई और प्रशासकों की समिति को टेस्ट क्रिकेटर चेतेश्वर पुजारा को क्रिकेटरों क सालाना कॉन्ट्रेक्ट के ग्रेड ए में ही जगह देनी चाहिए। बता दें कि बोर्ड और सीओए नई संरचना के आधार पर सालाना कॉन्ट्रेक्ट तैयार करेगी और शास्त्री चाहते हैं कि पुजारा को वहां भी शीर्ष खिलाड़ियों के साथ ग्रेड ए में जगह मिले। पुजारा फिलहाल ग्रेड ए में विराट कोहली, महेंद्र सिंह धोनी, रविचंद्रन अश्विन, अजिंक्य रहाणे और मुरली विजय के साथ हैं हालांकि वह टेस्ट के अलावा दूसरे फॉर्मेट नहीं खेलते हैं, जिसका असर अगले कॉन्ट्रेक्ट पर पड़ सकता है।

केएल राहुल, शिखर धवन के साथ गहरी दोस्ती की वजह से फायदा मिलता है: मुरली विजय
केएल राहुल, शिखर धवन के साथ गहरी दोस्ती की वजह से फायदा मिलता है: मुरली विजय

पत्रकार राजदीप सरदेसाई की नई किताब ‘डेमोक्रेसी ईलेवन’ के पैनल चर्चा के दौरान शास्त्री ने कहा, ‘‘यह बहुत जरूरी है कि सालाना कॉन्ट्रेक्ट में पुजारा जैसे खिलाड़ी को ग्रेड ए में जगह मिले।’’ शास्त्री ने कोहली और धोनी के साथ प्रशासकों की समिति के प्रमुख विनोद राय से मुलाकात कर संशोधित पैकेज और एफटीपी कैलेन्डर पर चर्चा की। बीसीसीआई में इस मुद्दे पर भी चर्चा हो रही कि खिलाड़ियों की श्रेणी कैलेन्डर साल में तीनों फॉर्मेटों के अंतरराष्ट्रीय मैचों की संख्या को देकर तय की जाए। पुजारा भारतीय टेस्ट टीम के सबसे अहम खिलाड़ियों में से एक है और वह दूसरे फॉर्मेटों में ज्यादा नहीं खेलते और दुर्भाग्य से उन्हें आईपीएल खेलने का मौका भी नहीं मिलता है।

एक दूसरे का सम्मान करते हैं कोहली-धोनी

शास्त्री ने इस मौके पर यह भी कहा कि धोनी और कोहली एक दूसरे का काफी सम्मान करते है जो कि मौजूदा टीम की सफलता का एक कारण है। उन्होंने कहा, ‘‘मैंने धोनी को कभी गुस्सा होते नहीं देखा है। अगर वह हुए भी तो सिर्फ 10 सेकेंड के लिए। कोहली अभी सीख रहे हैं लेकिन वह परिपक्व हैं। मैं धोनी और कोहली के रिश्तों को लेकर काफी कहानियां सुनता हूं लेकिन वह सब सही नहीं है। मैंने देखा है कि दोनों एक दूसरे का कितना सम्मान करते हैं।’’