भारतीय टीम के सीमित ओवर के कप्तान एमएस धोनी और टेस्ट कप्तान विराट कोहली © Getty Images
भारतीय टीम के सीमित ओवर के कप्तान एमएस धोनी और टेस्ट कप्तान विराट कोहली © Getty Images

भारतीय क्रिकेट टीम के पूर्व सचिव और पूर्व क्रिकेटर रवि शास्त्री ने कहा कि विराट कोहली और एमएस धोनी भारतीय टीम के सबसे बड़े खिलाड़ी हैं। दोनों ही खिलाड़ियों में एक-दूसरे के प्रति काफी इज्जत है। रवि शास्त्री ने कहा कि धोनी के अंदर अभी काफी क्रिकेट बाकी है और कम से कम 1 या दो साल तक वह भारत की कप्तानी संभाल सकता है। रवि शास्त्री ने कहा कि धोनी एक दम फिट हैं। धोनी पिछले 10-12 सालों से कप्तानी का दबाव झेल रहे हैं और अब वक्त आ गया है कि अगले 12-18 महीने में इस जिम्मेदारी को कोई और संभाले।

साथ ही रवि शास्त्री ने कहा कि धोनी ये बखूबी जानते हैं कि कोहली एक बेहद खतरनाक खिलाड़ी हैं और कोहली से उनका सर्वश्रेष्ठ कैसे हासिल करना है। दोनों ही खिलाड़ी एक-दूसरे को समझते और इज्जत करते हैं। रवि शास्त्री ने विराट कोहली की तारीफ करते हुए कहा ‘टेस्ट क्रिकेट में कोहली बहुत शानदार कर रहे हैं लेकिन सचिन तेंदुलकर से उनकी तुलना करना गलत होगा। सिर्फ 28 साल की उम्र में कोहली ने वनडे में 26-27 शतक लगा लिए हैं और अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट में 35-40 शतक लगा चुके हैं। कोहली के अंदर अभी कम से कम 10 साल का क्रिकेट बचा है और अगर वह इसी तरह बिना चोटिल हुए मैदान पर खेलते रहे तो कुछ भी हो सकता है। हमें कोहली पर दबाव नहीं डालना चाहिए कि सचिन के 100 शतक हैं, सचिन जैसा सिर्फ एक ही हो सकता है, लेकिन कोहली के नाम 40 अंतरराष्ट्रीय शतक हैं और अभी वह 10 साल और खेल सकते हैं ऐसे में कुछ भी संभव है।’ ये भी पढ़ें: विराट कोहली के पास होगा 40 साल का सूखा खत्म करने का मौका

आपको बता दें कि भारत और इंग्लैंड के बीच पांच मैचों की टेस्ट सीरीज खेली जानी है। सीरीज का पहला मैच राजकोट में बुधवार से खेला जाएगा। दोनों ही टीमों को अपनी-अपनी जीत का भरोसा है।