×

'जब मैंने टीम को 'विदेशी दौरा करने वाली सर्वश्रेष्ठ टीम' कहा था तो लोग मुझपर हंसे थे'

भारतीय क्रिकेट टीम के कोच रवि शास्त्री के कार्यकाल में भारत ने ऑस्ट्रेलिया में पहली टेस्ट सीरीज जीती।

Ravi Shastri (IANS)

भारतीय टीम के कोच रवि शास्त्री ने मौजूदा भारतीय टीम को दौरा करने वाले सर्वश्रेष्ठ टीम बताने वाले बयान पर कई पूर्व दिग्गज भड़के थे। लेकिन अब ऑस्ट्रेलिया में ऐतिहासिक टेस्ट सीरीज जीतने के बाद शास्त्री की बात सच साबित हुई। क्रिकबज को दिए इंटरव्यू में शास्त्री ने एक बार फिर अपने बयान को दोहराया और आंकड़ों से इसकी पुष्टि की।

ये भी पढ़ें: न्यूजीलैंड के खिलाफ पहले टी20 में कैसा होगा भारत का प्लेइंग XI

शास्त्री ने कहा, “मैंने (दौरा करने वाली सर्वश्रेष्ट टीम बताते समय) सभी फॉर्मेट शब्द का इस्तेमाल किया था। जब मैने कहा था कि ये विदेशी दौरा करने वाली दुनिया की सर्वश्रेष्ठ टीम है, छह महीने पहले लोग मुझ पर हंसे थे। जब मैंने कहा कि ये सभी फॉर्मेट में विदेशी दौरी करने वाली सर्वश्रेष्ठ टीम है तब भी सब मुझ पर हंसे थे। आज उन्हें भी पता चला गया है कि मैं फ्रेंच नहीं बोल रहा था।”

शास्त्री ने आगे कहा, “हम मेरे कार्यकाल मेंपहले दक्षिण अफ्रीका नहीं गए थे लेकिन वहां जाकर 25 साल बाद 5-1 से वनडे में उन्हें मात देना। उससे पहले इंग्लैंड (2014) में 3-1 से वनडे सीरीज जीती और ऑस्ट्रेलिया (2016) में 3-0 से टी20 सीरीज जीती। इस बीच हम श्रीलंका गए और भारत वहां पहले कभी नहीं जीता था। लोग कहते रहते हैं कि ये उपमहाद्वीप है लेकिन भारत श्रीलंका में 23 साल से नहीं जीता था। आप पहले श्रीलंका गई भारतीय टीमों को देखें और उन खिलाड़ियों को देखें, उन गेंदबाजों को देखें। लेकिन फिर भी हम 1992 के बाद से 23 साल तक उन्हें नहीं हरा पाए थे।”

ये भी पढ़ें: मिताली राज विवाद के बाद पहली बार खेलेंगी टी20, भूमिका पर सवाल

पूर्व क्रिकेटर ने आगे कहा, “हम वहां गए 2-1 से टेस्ट सीरीज (2015) जीती। फिर दोबारा गए (2017 में) और फिर 3-0 से टेस्ट, 5-0 से वनडे और 1-0 से टी20 सीरीज जीती। ये पूरा क्लीन स्वीप था, 9-0। ये अब लंबे समय तक दोबारा नहीं होगा। इस टीम ने विदेश शब्द लिया और उसे करे में डाल दिया। और ये खिलाड़ी लंबे समय तक ऐसा करसकते हैं। चार सालों में, उन्होंने किसी और भारतीय टीम के मुकाबले सभी फॉर्मेट में विदेशों में ज्यादा जीत दर्ड की हैं।”

trending this week