Image courtesy: Twitter
Image courtesy: Twitter

तमिलनाडु प्रीमियर लीग जो आजकल तमिलनाडु में खेली जा रही है वह कुछ अच्छे कारणों के चलते और अच्छी क्रिकेट के कारण पूरे देश में छाई हुई है। तमिलनाडु क्रिकेट एसोसिएशन भी इस टूर्नामेंट को देश का सबसे बढ़िया टूर्नामेंट बनाने में हाड़तोड़ मेहनत कर रहा है। लेकिन इसी बीच एक ऐसी घटना बीच मैदान में घटी जिसने सबको शर्मशार कर दिया। दरअसल, चेपोक सुपर गिलिस और डिनिगुल ड्रेगन्स के बीच मुकाबले में दो खिलाड़ी नारायन जगदीसन और साई किशोर आपस में भिड़ गए। ये सब जगदीसन के आउट होने के बाद शुरू हुआ।

मैच में सब अच्छा चल रहा था कि लेकिन आउट होने के बाद गेंदबाज किशोर अपनी भावनाओं को थाम नहीं पाया और बल्लेबाज को उकसाते हुए शब्दों के बाण चला दिए। इस पर बल्लेबाज ने भी उस पर शब्दबाण प्रत्युत्तर के रूप में चला दिए। फिर क्या था गेंदबाज किशोर बल्लेबाज की ओर बढ़े और जल्द ही दोनों बीच मैदान में ही एक दूसरे को धकियाने लगे। इस बात पर डिनिगुल के कप्तान आर. अश्विन जो उस समय बल्लेबाजी कर रहे थे वह गुस्से से आग बबूला हो गए।

उन्होंने अपना हेलमेट बाहर निकाला और मामले को सिर्फ शांत ही नहीं किया बल्कि गेंदबाज पर खूब गुस्सा होते हुए चिल्लाए। अश्विन ने जगदीशन को कहा कि वह फौरन मैदान से बाहर जाएं और गेंदबाज को भी अपनी पोजीशन पर तुरंत जाने को कहा। विपक्षी खिलाड़ी भी तुरंत घटना स्थल पर पहुंचे और मामले को शांत करने लगे। इस घटना ने मैच को प्रभावित नहीं किया और चेपक सुपर गिलिस ने डिनिगुल ड्रेगन्स को 6 रनों से हरा दिया। इस मैच के साथ डिनिगुल टीम का लगातार जीत का सिलसिला भी टूटा।