Ravichandran Ashwin: Players must manage workloads themselves
रविचंद्रन अश्विन (IANS)

भारतीय ऑफ स्पिनर रविचंद्रन अश्विन का मानना है कि इंडियन प्रीमियर लीग के आगामी सीजन में खिलाड़ियों को खुद ही अपना वर्कलोड मैनेज करना होगा। आईपीएल खत्म होने और विश्व कप शुरू होने के बीच केवल तीन सप्ताह का ही अंतराल है और भारतीय खिलाड़ियों के वर्कलोड को लेकर काफी बातें की जा रही हैं।

किंग्स इलेवन पंजाब के कप्तान अश्विन ने खिलाड़ियों को याद दिलाते हुए कहा कि फ्रेंचाइजी ने उन पर बहुत निवेश किया है और उनसे उम्मीद है कि वे अच्छा प्रदर्शन करेंगे। इसलिए ये खिलाड़ियों पर है कि वो सही संतुलन बनाकर चलें।

ये भी पढ़ें: ‘IPL के दौरान वर्कलोड को लेकर सतर्क रहेंगे भारतीय खिलाड़ी’

अश्विन ने शनिवार को कहा, “मुझे नहीं लगता कि बतौर क्रिकेटर आप इस बारे में बहुत ज्यादा सोच सकते हैं कि क्या किया जाना चाहिए और आप इसे कैसे मैनेज कर सकते हैं। एक क्रिकेट खिलाड़ी के रूप में आप बस आज जो कुछ भी होता है उस पर ध्यान केंद्रित करते हैं। फ्रेंचाइजी ने आप पर पैसा खर्च किया है।”

अश्विन ने साथ ही माना कि आईपीएल के आगामी सीजन के दौरान खिलाड़ियों के दिमाग में हमेशा वर्कलोड रहेगा। उन्होंने कहा, “यह (वर्कलोड) निश्चित रूप से दिमाग में रहता है क्योंकि इसके बारे में अभी ज्यादा बात की जा रही है। मुझे विश्वास है कि खिलाड़ी जिम्मेदार हैं और फिटनेस के प्रति अधिक जागरूक हैं। वे इसे मैनेज करने में सक्षम हैं।”

ये भी पढ़ें: IPL 2019: राजस्थान रॉयल्स कैंप से जुड़े स्टीव स्मिथ

मुश्ताक अली ट्रॉफी में छह मैचों में सात विकेट लेने वाले अश्विन अपने प्रदर्शन पर से संतुष्ट हैं। अश्विन ने कहा, “मैं सैयद मुश्ताक अली खेला और मुझे अच्छा लगा। मैं क्रिकेट खेल रहा हूं और ऐसा नहीं है कि किसी एक खास फॉर्मेट में बहुत कुछ करने की जरूरत है।”