Ravindra Jadeja: I will always remember this comeback as as it was after a gap of 480 days
Ravindra Jadeja, Mushfiqur Rahim (AFP Photo)

साल 2017 जुलाई में भारतीय टीम के लिए आखिरी वनडे मैच खेलने वाले रविंद्र जडेजा एशिया कप से इस फॉर्मेट में वापसी कर काफी खुश हैं। जडेजा ने चोटिल अक्षर पटेल की जगह टीम में वापसी की और बांग्लादेश के खिलाफ मैच में चार विकेट लेकर मैन ऑफ द मैच रहे। जडेजा का कहना है कि वो इस कमबैक को कभी नहीं भूलेंगे। उन्होंने कहा, “मैं इस कमबैक को हमेशा याद रखूंगा क्योंकि टीम में वापसी के लिए मैने 480 दिनों तक इंतजार किया।”

मैच के बाद प्रेस कॉन्फ्रेंस के दौरान भारतीय स्पिन गेंदबाज ने कहा, “टीम में वापसी के लिए ये मेरा सबसे लंबा अंतराल रहा। इंग्लैंड के खिलाफ आखिरी मैच से मुझे आत्मविश्वास मिला। मैं विजय हजारे ट्रॉफी में खेल रहा था और मुझे नहीं पता था कि यहां क्या हो रहा है। एक दिन पहले ही मुझे दुबई आने के लिए चयनकर्ताओं का फोन आया। मैं काफी खुश था।”

लंबे समय से सीमित ओवर फॉर्मेट से बाहर जडेजा को पिछले कुछ मैचों से टेस्ट क्रिकेट में भी लगातार मौके नहीं मिल रहे थे। भारतीय टीम के साथ इंग्लैंड दौरे पर गए जडेजा को टेस्ट सीरीज के आखिरी मैच में खेलने का मौका मिला था, जिसका उन्होंने पूरा फायदा उठाया। इस बारे में जडेजा ने कहा, “टेस्ट क्रिकेट में भी पिछली कुछ विदेशी सीरीज में भी मुझे लगातार मौके नहीं मिल रहे थे। इस वजह से मैने तय कर लिया था कि जब भी मौका मिलेगा मैं अच्छा प्रदर्शन करूंगा, मेरे हाथ में केवल यही है। मैं केवल अपने खेल पर ध्यान दे रहा था और कैसे और बेहतर बना जा सकता है।”

धीमी विकेट पर करना होता है अतिरिक्त प्रयास

दुबई में पहली बार कोई मैच खेलने वाले जडेजा ने यहां कि धीमी विकेट पर गेंदबाजी के बारे में कहा, “धीमी विकेट पर, आपको अतिरिक्त प्रयास के साथ गेंदबाजी करनी होती है। साधारण विकेट पर गेंद बाउंस होने के बाद तेजी से जाती है इसलिए बल्लेबाज को ज्यादा समय नहीं मिलता लेकिन धीमी विकेट पर आपको ज्यादा प्रयास के साथ गेंद डालनी पड़ती है।”

विश्व कप के बारे में नहीं सोच रहे जडेजा

वनडे क्रिकेट में वापसी के बाद फैंस जडेजा को विश्व कप 2019 में खेलते देखना चाहते हैं लेकिन सौराष्ट्र का ये खिलाड़ी अभी इतनी आगे की बात नहीं सोच रहा है। जडेजा ने कहा, “विश्व कप में अभी समय है, इससे पहले हम कई मैच खेलने वाले हैं और मैं उस बारे में कोई कमेंट नहीं कर सकता। मेरा लक्ष्य है कि मैं हर मौके पर इसी तरह का प्रदर्शन करूं जैसा कि मैने आज किया है।”