रवींद्र जडेजा © AFP
रवींद्र जडेजा © AFP

ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ पहले 3 मैचों के लिए जैसे ही टीम इंडिया का ऐलान हुआ सभी को ये लगा था कि श्रीलंका के खिलाफ वनडे सीरीज में ना खेलने वाले आर अश्विन और रवींद्र जडेजा को अब टीम में जगह मिलेगी, लेकिन ऐसा हुआ नहीं। दोनों को एक बार फिर चयनकर्ताओं ने टीम में जगह नहीं दी और कहा कि अश्विन और जडेजा को आराम दिया गया है। मगर वनडे टीम के ऐलान के बाद रवींद्र जडेजा का एक ट्वीट तो कुछ और ही इशारे कर रहा है। जडेजा ने अपने ट्विटर अकाउंट पर ट्वीट कर लिखा, ‘अपनी असफलताओं से अपनी वापसी को मजबूत बनाओ’। हालांकि जडेजा ने कुछ देर बाद अपना ट्वीट हटा दिया, लेकिन उनके ट्वीट से यही अंदाजा लगाया जा रहा है कि टीम में शामिल नहीं किए जाने पर उन्हें झटका लगा है।

सौजन्य- ट्विटर
सौजन्य- ट्विटर

रवींद्र जडेजा ने ट्वीट क्यों हटाया इसका कारण तो वो ही बता सकते हैं लेकिन इससे ये कयास लगाए जा रहे हैं कि जैसे जडेजा वनडे टीम में खेलना चाहते हैं लेकिन उनको जबरन आराम दिया जा रहा है। रवींद्र जडेजा को टीम में शामिल ना करने की वजह उनका खराब प्रदर्शन भी है। टीम इंडिया के ये ऑलराउंडर टेस्ट क्रिकेट में तो जबर्दस्त खेल दिखा रहा है लेकिन अगर उनके पिछले दो सालों का रिकॉर्ड बेहद ही खराब रहा है। ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ पहले तीन वनडे मैचों के लिए टीम इंडिया का ऐलान, अश्विन-जडेजा बाहर

रवींद्र जडेजा ने पिछले दो सालों में 15 वनडे खेले हैं और उन्होंने सिर्फ 11 विकेट झटके हैं। उनका गेंदबाजी औसत 67.09 रहा है जो कि बेहद ही खराब है। बल्लेबाजी में भी जडेजा ने कोई दम नहीं दिखा पाए हैं। जडेजा ने 15 मैच में 22.00 के औसत से सिर्फ 110 रन बनाए हैं। इस दौरान उनका सर्वश्रेष्ठ स्कोर सिर्फ नाबाद 24 रहा है। मतलब जडेजा पिछले दो साल में एक अर्धशतक भी नहीं लगा सके हैं। इसी को देखते हुए टीम इंडिया मैनेजमेंट अक्षर पटेल को मौका दे रही है।