RCB’s biggest problem is their weak bowling attack, says Sunil Gavaskar
बैंगलुरू टीम (BCCI)

इंडियन प्रीमियर लीग के 12वें सीजन में रॉयल चैलेजर्स बैंगलोर टीम अब भी एक अदद जीत के लिए तरस रही है। अब तक खेले चार लीग मैचों में हारने के बाद बैंगलोर टीम की परेशानियां साफ नजर आने लगी है। असंतुलित प्लेइंग इलेवन, इन-फॉर्म ऑलराउंडर खिलाड़ी की कमी और खराब बल्लेबाजी के अलावा कमजोर गेंदबाजी क्रम आरसीबी की सबसे बड़ी परेशानी है। पूर्व भारतीय कप्तान सुनील गावस्कर का भी यही मानना है।

ये भी पढ़ें: चेन्नई के खिलाफ मैच में महेंद्र सिंह धोनी से टकराएंगे पंजाब के रविचंद्रन अश्विन

टाइम्स ऑफ इंडिया के अपने कॉलम में गावस्कर ने कहा, “उनकी (बैंगलुरू) सबसे बड़ी परेशानी है कि चहल को छोड़कर, उनके पास ऐसा गेंदबाजी अटैक नहीं है जो बल्लेबाजों को रन बनाने से रोक पाए।” बैंगलुरू के गेंदबाजी अटैक की कमजोरी का अंदाजा इसी बात से लगाया जा सकता है कि अब तक खेल चार मैचों में युजवेंद्र चहल ने कुल 8 विकेट लिए हैं, जबकि बाकी आठ गेंदबाजों ने मिलकर केवल सात विकेट ही लिए हैं।

ये भी पढ़ें: मुंबई-हैदराबाद: रोहित के सामने वार्नर-बेयरस्टो से निपटने की चुनौती

गेंदबाजी ही नहीं पूर्व खिलाड़ी ने बैंगलुरू की बल्लेबाजी पर भी सवाल उठाए। उन्होंने लिखा, “एक ऐसी टीम के लिए, जिसमें विराट कोहली और एबी डिविलियर्स जैसे खिलाड़ी हैं, बैंगलुरू बाकी टीमों के मुकाबले छोटे स्कोर पर ज्यादा आउट होती है। जब पिच कोई हरकत करती है, वो एक खराब आंकड़ा बनाते हैं, ऐसा लगता है जैसे वैरिएशंस के साथ निपटने की बेसिक तकनीक ड्रेसिंग रूम छोड़कर चली गई है।”