रिषभ पंत ने कहा कि वह इतने रन बनाना चाहते हैं कि कोई इंग्नोर ना कर सके © Getty Images
रिषभ पंत ने कहा कि वह इतने रन बनाना चाहते हैं कि कोई इंग्नोर ना कर सके © Getty Images

घरेलू क्रिकेट में शानदार फॉर्म के जरिये टीम इंडिया के दरवाजे पर दस्तक दे रहे विकेटकीपर बल्लेबाज रिषभ पंत ने खेल के सामान बनाने वाली प्रमुख कंपनी ‘एसजी’ के साथ करार साइन है। ‘एसजी’ ने पंत के साथ यह करार तीन साल के लिए किया है। प्रोफेशनल मैनेजमेंट ग्रुप द्वारा जारी किये गए स्टेटमेंट के अनुसार इस करार के बाद पंत क्रिकेट के सभी प्रारूपों में अब मैदान पर ‘एसजी’ के सामान के साथ खेलते नजर आएंगे। अंडर-19 विश्व कप में अपनी प्रतिभा दिखाने के बाद पंत को आईपीएल(इंडियन प्रीमियर लीग) में दिल्ली डेयरडेविल्स की ओर से खेलने का मौका मिला। इसके बाद से इस युवा खिलाड़ी ने पीछे मुड़कर नहीं देखा।

पंत आजकल रणजी ट्रॉफी में भी धमाल मचा रहे हैं, हाल ही में उन्होंने रणजी क्रिकेट में सबसे तेज शतक जमाने का रिकॉर्ड भी अपने नाम किया। पंत ने झारखंड के खिलाफ सिर्फ 48 गेंदों पर शतक बनाकर ये मुकाम हासिल किया। इसके अलावा उन्होंने इस सत्र में एक तिहरा शतक भी जमाया था। ‘एसजी’ पूरी दुनिया में अपने खेल संसाधनों की वजह जानी जाती है पंत ने इस करार के बाद कहा कि ‘एसजी’ पूरे विश्व में खिलाड़ियों को अच्छे सामान देती रही है और मैं इस ब्रांड के साथ जुड़ कर गर्व महसूस कर रहा हूं। [Also Read: भारतीय टीम में चयन मेरे हाथ में नहीं है: ऋषभ पंत]

पंत ने पहले भी विराट कोहली, वीरेन्द्र सहवाग और एडम गिलक्रिस्ट को अपना आर्दश बता चुके हैं। पंत द्वारा रणजी ट्रॉफी में महाराष्ट्र के खिलाफ तिहरा शतक बनाने के बाद सहवाग ने उनकी तारीफ भी की थी। रणजी में शानदार प्रदर्शन से टीम के दरवाजे पर लगातार दस्तक दे रहे पंत आजकल सुनील गावस्कर की बात को साबित करना चाहते हैं। गावस्कर का मानना है कि यदि दरवाजे पर दस्तक देने से टीम में जगह नहीं मिल रही तो दरवाजे को तोड़ कर अपनी जगह बनाओ। इस पर पंत ने कहा कि हां, मैं इसे नकारता नहीं हूं ऑस्ट्रेलिया दौरे पर जब मुझे इंडिया ए में जगह नहीं मिली तो दुखी था। लेकिन तब मुझे एहसास हुआ कि मुझे पर्याप्त रन बनाने होंगे। इतना रन बनाई कि कोई इग्नोर ना कर सके।