Roger Binny said Travelling to Pakistan not BCCI’s call government will decide
TWITTER

बेंगलुरू। भारतीय क्रिकेट बोर्ड (बीसीसीआई) के नये अध्यक्ष रोजर बिन्नी ने गुरूवार को कहा कि टीम 2023 एशिया कप के लिये पाकिस्तान का दौरा करेगी या नहीं, इस पर बोर्ड फैसला नहीं कर सकता क्योंकि इस तरह के निर्णय करने के लिये वह सरकार पर निर्भर है।

कनार्टक राज्य क्रिकेट संघ द्वारा यहां आयोजित एक कार्यक्रम में बिन्नी ने कहा कि बीसीसीआई ने अगले साल पाकिस्तान की यात्रा करने के लिये अभी तक सरकार से संपर्क नहीं किया है लेकिन अंतत: इस मामले पर फैसला केंद्र सरकार को ही करना है। बिन्नी ने कहा, ‘‘यह बीसीसीआई का फैसला नहीं है। हमें देश से रवाना होने के लिये सरकार की मंजूरी चाहिए होती है। हम देश से रवाना हो रहे हों या फिर टीमें देश में आ रही हों, हमें मंजूरी की जरूरत होती है। ’’

उन्होंने कहा, ‘‘एक बार सरकार से हरी झंडी मिल जाती है तो हम इसके अनुसार चलते हैं। हम खुद ही फैसला नहीं कर सकते। हमें सरकार पर निर्भर रहना होना होता है। हमने अभी तक सरकार से संपर्क नहीं किया है। ’’ एशिया कप अगले साल सितंबर में पाकिस्तान में खेला जाना है जो भारत में वनडे विश्व कप से पहले होगा।

बीसीसीआई सचिव जय शाह ने हाल में कहा था कि भारतीय टीम अगले साल एशिया कप के लिये पाकिस्तान की यात्रा नहीं करेगी बल्कि तटस्थ स्थल पर टूर्नामेंट खेलना पसंद करेगी। बिन्नी की यह टिप्पणी शाह के बयान के बाद आयी है।

गुरूवार को खेल मंत्री अनुराग ठाकुर ने कहा कि भारतीय टीम को पाकिस्तान की यात्रा करने के लिये गृह मंत्रालय से मंजूरी की जरूरत होगी। इससे निराश पाकिस्तान क्रिकेट बोर्ड (पीसीबी) ने बुधवार को एशियाई क्रिकेट परिषद से आपात बैठक बुलाने का अनुरोध किया था।

पीसीबी ने कहा कि इस तरह के बयान एशियाई और अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट समुदायों को विभाजित कर सकते हैं और 2023 विश्व कप के लिए पाकिस्तान की भारत यात्रा को भी प्रभावित कर सकते हैं। भारत ने 2008 एशिया कप के बाद से पाकिस्तान का दौरा नहीं किया है। इसी साल नवंबर में मुबंई आतंकी हमले के बाद से 2009 के शुरूआत में होने वाली द्विपक्षीय सीरीज भी रद्द कर दी गयी थी।

पाकिस्तान ने 2012 में छह मैचों की सीमित ओवरों की सीरीज के लिये भारत की यात्रा की थी। लेकिन पिछले 10 वर्षों में दोनों देशों के बीच कोई द्विपक्षीय क्रिकेट नहीं हुआ है। दोनों टीमें एक दूसरे से आईसीसी और एशियाई क्रिकेट परिषद के टूर्नामेंट में ही खेलती हैं।