पूर्व भारतीय गेंदबाज जहीर खान (Zaheer Khan) का मानना है कि रोहित शर्मा (Rohit Sharma) तीसरे दिन के खेल को टीम के जरूरत के हिसाब से खेला। 34 साल के बल्लेबाज रोहित ने केनिंग्टन ओवल में खेले जा रहे टेस्ट के तीसरे दिन बल्लेबाजी करते हुए टेस्ट में अपने 3000 रन भी पूरे कर लिए।

भारत और इंग्लैंड के बीच ओवल में 127 रन की पारी खेल रोहित ने विदेशी जमीन पर पहला टेस्ट शतक बनाने के साथ अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट में अपने 15,000 रन भी पूरे किए। जिसके बाद उनकी इस पारी को खूब सराहा जा रहा है।

जहीर खान ने क्रिकबज चैटर में बात करते हुए कहा, “उनके इरादे साफ थे। उन्होने वहां परिस्थितियों को समझा और नए गेंद खेलते समय उन्होंने अपने आप को समय दिया बाहर जाने वाली गेंदों को उन्होंने जाने दिया और उसी गेंद को खेला जो उनके एरिया में थी।”

उन्होंने आगे कहा, “द ओवल की पिच में बाउंस होती है, रोहित शर्मा को बाउंस और तेज गति से आने वाली गेंदे पसंद है और उन्होंने खेल को टीम के जरुरत के हिसाब से खेलते हुए शानदार शतक लगाया।”

रोहित ने भारत की दूसरी पारी के दौरान पहले केएल राहुल के साथ 83 और फिर चेतेश्वर पुजारा के साथ 153 रनों की दमदार साझेदारियां बनाई। जिसके दम पर भारतीय टीम ने तीसरे दिन का खेल खत्म होने तक इंग्लैंड के खिलाफ 171 रन की बढ़त बना ली थी।