ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ दूसरे वनडे में 42 रनों की पारी खेलकर भारतीय दिग्गज रोहित शर्मा वनडे क्रिकेट में सबसे तेज 7,000 रन पूरे करने वाले सलामी बल्लेबाज बन गए हैं। रोहित ने 137 वनडे पारियों में 58 की औसत बरकरार रखते हुए ये कीर्तिमान बनाया।

राजकोट में खेले जा रहे इस मैच में रोहित ने 44 गेंदो पर 42 रनों की पारी खेलकर ये उपलब्धि हासिल की। रोहित ने अपने वनडे करियर की 137वीं पारी में 7,000 रन पूरे कर दक्षिण अफ्रीकी दिग्गज हाशिम आमला को पीछे छोड़ दिया है।

आमला ने 147 वनडे पारियों में 7,000 रन बनाकर ये रिकॉर्ड अपने नाम किया था। रोहित और आमला के बाद सबसे तेज 7,000 रन बनाने वाले बल्लेबाजों की सूची में तीसरा नाम महान क्रिकेटर सचिन तेंदुलकर (160 पारी) का है। इस सूची में चौथे स्थान पर श्रीलंका के तिलकरत्ने दिलशान (165 पारी) और पांचवें नंबर पर पूर्व भारतीय कप्तान सौरव गांगुली (168 पारी) हैं।

गंभीर ने कहा- अपना स्लॉट केएल राहुल को देने के लिए विराट कोहली को मिले शाबाशी

राजकोट वनडे में 42 रन बनाकर एडम जम्पा की गेंद पर एलबीडब्ल्यू आउट होकर अर्धशतक से चूके रोहित ने अपने वनडे करियर में 223 मैचों की 216 पारियों में कुल 8,996 रन बना लिए हैं। जिसमें 43 अर्धशतक, 28 शतक और तीन दोहरे शतक शामिल हैं।

रोहित ने राजकोट वनडे में शिखर धवन के साथ मिलकर पहले विकेट के लिए 81 रनों की मजबूत साझेदारी बनाई। हालांकि इस बार रोहित अच्छी शुरुआत को बड़े स्कोर में तब्दील करने से चूक गए। अपने घरेलू मैदान मुंबई में खेले पहले वनडे मैच में रोहित का प्रदर्शन बेहद निराशाजनक रहा था। वो मात्र 10 रन बनाकर मिशेल स्टार्क की गेंद पर डेविड वार्नर को आसान सा कैच थमा बैठे थे।

भारतीय उप कप्तान 9,000 का आंकड़ा छूने से मात्र 4 रन दूर हैं। उम्मीद है 19 जनवरी को ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ बैंगलुरू में होने वाले तीसरे वनडे मैच में रोहित ये कीर्तिमान भी हासिल कर लेंगे।