रोहित शर्मा, साभार- पीटीआई
रोहित शर्मा, साभार- पीटीआई

श्रीलंका के खिलाफ मोहाली वनडे में रोहित शर्मा ने एक ऐसी पारी खेली जिसने सभी को उनका मुरीद बना दिया। रोहित शर्मा ने दूसरे वनडे में नाबाद 208 रन बनाए और करियर में तीसरी बार दोहरा शतक लगा दिया। रोहित शर्मा दुनिया के इकलौते बल्लेबाज हैं जिन्होंने वनडे क्रिकेट में तीन बार इस आंकड़े को छुआ है। वनडे का सर्वश्रेष्ठ स्कोर भी उन्हीं के नाम है। ऐसे में अब ये तो साबित हो गया है कि रोहित शर्मा दोहरे शतक तुक्के में नहीं बनाते, उनके अंदर ऐसा कारनामा करने का दम कूट-कूट कर भरा है। वैसे रोहित शर्मा के तीन दोहरे शतक बनाने के बाद अब ये सवाल उठ रहे हैं कि क्या रोहित शर्मा वनडे में तिहरा शतक भी लगा सकते हैं? भारत के पूर्व टेस्ट क्रिकेटर आकाश चोपड़ा की बात मानें तो ऐसा बिलकुल संभव है।

आकाश चोपड़ा ने ईएसपीएन को दिए इंटरव्यू में बड़ा बयान देते हुए कहा, ‘वनडे क्रिकेट में रोहित शर्मा तीन दोहरे शतक लगा चुके हैं और मोहाली में बनाई गई उनकी डबल सेंचुरी कई वजहों से खास है। पहली वजह श्रीलंका टॉस जीत चुका था और मोहाली की पिच पर शुरुआत में गेंदबाजों के लिए मदद थी। शिखर धवन के तेजी से खेलने के बावजूद भारत का स्कोर उतनी तेजी से नहीं बढ़ा। जब शिखर आउट हुए तो रोहित शर्मा ने अपना शतक पूरा किया। उसके बाद उन्होंने 100 से 200 रनों का सफर इतनी तेजी से तय किया जो हैरान करने वाला था। उनके छक्के लगाने की कला कमाल की है और मुझे कोई हैरानी नहीं होगी अगर वो एक दिन वनडे में तिहरा शतक जड़ दें।’

एम एस धोनी हैं रोहित शर्मा के 'गॉडफादर'!
एम एस धोनी हैं रोहित शर्मा के 'गॉडफादर'!

आपको बता दें रोहित शर्मा तीन बार दोहरे शतक लगा चुके हैं। ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ एक बार और श्रीलंका के खिलाफ दो बार उन्होंने ये कारनामा किया है। रोहित शर्मा ने मोहाली वनडे के बाद कहा कि उन्हें अपने तीनों दोहरे शतक बहुत ही पसंद हैं, वो किसी एक दोहरे शतक को फेवरेट के तौर पर नहीं चुन सकते। रोहित ने कहा, ‘मैं किसी एक दोहरे शतक को पसंदीदा नहीं कह सकता। ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ जो दोहरा शतक लगा था वो फाइनल था और श्रीलंका के खिलाफ जो दोहरा शतक था उसमें मैंने चोट के बाद वापसी की थी। इस शतक की बात करूं तो इस मैच में भी हमें जीतना जरूरी था नहीं तो हम सीरीज हार जाते। फिर भी मैं कहूंगा कि 264 रनों की पारी मेरी फेवरेट है।’