Rohit Sharma: Once I get to a 100 the only aim is to see how far I can go
Rohit Sharma (File Photo) © AFP

रोहित शर्मा ने ब्रेबोर्न वनडे में 137 गेंद पर शानदार 162 रनों की पारी खेली। रोहित की आतिशी पारी को देखकर एक समय ऐसा लगा कि मानो वो वनडे क्रिकेट में एक बार फिर दोहरा शतक लगाने जा रहे हैं, लेकिन 44वें ओवर की आखिरी गेंद पर एशले नर्स ने उन्‍हें सी. हेमराज के हाथों कैच आउट करा चलता किया।

भारतीय पारी खत्‍म होने के बाद रोहित शर्मा से पूछा गया कि जब भी वो आप 100 पूरा करते हैं तो फैन्‍स उनसे दोहरे शतक की उम्‍मीद लगाने लगते हैं। इसपर रोहित ने कहा, “लोगों को मुझसे काफी उम्‍मीदें रहती हैं। हम मैच के दौरान केवल एक बड़ा टार्गेट सेट करना चाहते थे। जिस तरह का बल्‍लेबाजी लाइनअप वेस्‍टइंडीज के पास है उसे देखकर कोई भी इस बात का अनुमान नहीं लगा सकता कि कौन सा टार्गेट सही होगा। हम 12 साल बाद इस ग्राउंड में खेल रहे हैं।”

रोहित ने कहा, “ब्रेबोर्न स्‍टेडियम की पिच से मैं अच्‍छी तरह से वाकिफ हूं। मुंबई में क्रिकेट खेलते हुए बड़े होने के दौरान मैंने यहां काफी क्रिकेट खेला है। मैं यहां की पेस और बाउंस को अच्‍छी तरह से समझता हूं। मैं अंबाती रायडू के साथ बड़ी साझेदारी बनाना चाहता था। मुझे पता था कि एक बार हम इस पिच पर जम गए तो रन अपने आप आने लगेंगे। 100 बनाने के बाद आप अपनी गलती से ही इस पिच पर आउट होगे। गेंदबाज के लिए आपको आउट कर पाना काफी मुश्किल हो जाएगा।”

रोहित ने कहा, “मैंने खुद को कहा था कि मैं गलत शॉट खेलकर आउट नहीं होउंगा। शतक बनाने के बाद मेरा एक ही लक्ष्‍य था कि मैं कितनी दूर तक जा सकता हूं और टीम को अच्‍छी स्थिति में पहुंचा सकता हूं।