न्यूजीलैंड के अनुभवी बल्लेबाज रॉस टेलर (Ross Taylor) का मानना ​​है कि आईपीएल (Indian Premier League) के निलंबन से भारत को विश्व टेस्ट चैम्पियन (ICC World Test Championship) के फाइनल में फायदा होगा क्योंकि विराट कोहली की अगुवाई वाली टीम को इंग्लैंड की परिस्थितियों के अनुकूल होने के लिए और अधिक समय मिल गया. जैव-सुरक्षित माहौल (बायो-बबल) में कोविड-19 के कई मामलों के कारण 30 मई को समाप्त होने वाले आईपीएल को मई के पहले सप्ताह में ही निलंबित कर दिया गया था. डब्ल्यूटीसी फाइनल 18 जून से साउथम्पटन में खेला जाएगा.

टेलर ने रविवार को संवाददाताओं से कहा, ‘‘मुझे लगता है कि दुर्भाग्यपूर्ण परिस्थितियों में आईपीएल का जल्दी खत्म होना शायद भारत के लिए थोड़ा फायदेमंद होगा. उन्होंने कहा, ‘‘अगर आईपीएल अपने तय कार्यक्रम के मुताबिक होता तो उन्हें तैयारी करने का कम वक्त मिलता. लेकिन अब उनके पास काफी समय होगा. उनके गेंदबाजों के लिए अनुकूल होने का समय बढ़ जाएगा. ’’

टेलर ने हालांकि माना कि न्यूजीलैंड अब भी भारत से बेहतर स्थिति में होगा क्योंकि उसे डब्ल्यूटीसी फाइनल से पहले इंग्लैंड के खिलाफ दो टेस्ट खेलने हैं. उन्होंने कहा, ‘‘अगर मैं कहूं कि डब्ल्यूटीसी फाइनल के बारे में नहीं सोच रहा हूं तो मैं शायद झूठ बोलूंगा, इंग्लैंड के खिलाफ दो टेस्ट खेलने से होने वाली तैयारी से बेहतर के बारे में सोचा नहीं जा सकता था. आखिर इस मैच को एक तटस्थ स्थल पर खेलना है. हमें दो टेस्ट खेलने से थोड़ा फायदा होगा लेकिन यह भारतीय टीम लंबे समय से नंबर एक रही है और उसे यहां पर काफी सफलता मिली है.’’

ऐसी चर्चा थी कि बीसीसीआई ने आईपीएल को पूरा करने के लिए इंग्लैंड के खिलाफ भारत की पांच टेस्ट मैचों की श्रृंखला के कार्यक्रम में बदलाव करने का अनुरोध किया है, जिसे इंग्लैंड एवं वेल्स क्रिकेट बोर्ड (ईसीबी) ने अस्वीकार कर दिया है. टेलर से जब पूछा गया कि क्या टी20 लीगों के प्रभाव से अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट के भविष्य पर खतरा है तो उन्होंने कहा, ‘‘ आईपीएल शायद सबसे बड़ी लीग है और जब तक दूसरे देशों के पास ऐसी शक्ति नहीं होगी तब तक वे इसे ध्यान में रखकर कार्यक्रम बनायेंगे क्योंकि खिलाड़ी इसमें खेलना चाहते हैं.’’

न्यूजीलैंड के लिए 105 टेस्ट, 233 एकदिवसीय और 102 टी20 अंतरराष्ट्रीय खेल चुके टेलर ने कहा, ‘‘मुझे उम्मीद है कि अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट में अभी भी प्रासंगिकता और प्राथमिकताएं हैं. जब तक चीजों को प्रबंधित किया जा रहा है तब तक सब ठीक है.’’ उन्होंने अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट को सबसे अधिक महत्व वाला करार देते हुए कहा, ‘‘जब हमने शुरूआत की थी जब से अब तक काफी बदलाव आया है. हम एक टीम के तौर पर पूरा आईपीएल नहीं पा रहे थे, हम कुछ सप्ताह ही खेलते थे. यह कदम अच्छे के लिए है लेकिन मुझे उम्मीद है कि अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट अब भी सर्वोच्च प्राथमिकता है. मुझे इस बात पर पूरा भरोसा है. आप ज्यादातर अंतरराष्ट्रीय क्रिकेटरों से पूछेंगे तो वह भी ऐसा ही कहेंगे.’’ (भाषा)