भारतीय उप कप्तान केएल राहुल (KL Rahul) ने शुक्रवार को दिए बयान में स्वीकार किया कि दक्षिण अफ्रीका (South Africa) के खिलाफ टेस्ट सीरीज में पांचवें नंबर के लिए अजिंक्य रहाणे (Ajinkya Rahane) और श्रेयस अय्यर(Shreyas Iyer) के बीच फैसला करना मुश्किल होगा।

वर्चुअल मीडिया बातचीत के दौरान राहुल ने कहा, ‘‘निश्चित रूप से इस पर फैसला करना मुश्किल है। अजिंक्य के बारे में बात करूं तो वो टेस्ट टीम का एक अहम सदस्य रहे हैं जिन्होंने अपने करियर में बहुत बहुत महत्वपूर्ण पारियां खेली हैं। पिछले 15 से 18 महीनों में उन्होंने कुछ महत्वपूर्ण पारियां खेली हैं। लार्ड्स में पुजारा के साथ वो भागीदारी हमारे लिये टेस्ट मैच जीतने के लिए काफी अहम थी।’’

उन्होंने आगे कहा, ‘‘श्रेयस ने निश्चित रूप से अपने मौके का फायदा उठाया और कानपुर में एक अर्धशतक के साथ एक शानदार शतक जड़ा और वो काफी रोमांचित है। हनुमा ने भी हमारे लिए ऐसा ही किया है, इसलिए ये मुश्किल फैसला होगा।’’

भारतीय खिलाड़ी रविवार से शुरू होने वाले टेस्ट सीरीज से पहले एक हफ्ते से अभ्यास कर रहे हैं और टीम के नए उप कप्तान राहुल का मानना है कि दक्षिण अफ्रीका में लय तय करने के लिए अच्छी शुरूआत की जरूरत है जहां उन्होंने कभी भी टेस्ट सीरीज नहीं जीती है।

शार्दुल ठाकुर (Shardul Thakur) अपने बेहतरीन बल्लेबाजी कौशल से सीनियर गेंदबाज इशांत शर्मा (Ishant Sharma) से आगे हो जाते हैं, इसका मतलब हो सकता है कि अय्यर, रहाणे और हनुमा विहारी (Hanuma Vihari) में से एक को ही मौका मिल सकता है क्योंकि राहुल, मयंक अग्रवाल, चेतेश्वर पुजारा, विराट कोहली और ऋषभ पंत का चयन तो होगा ही।

राहुल ने संकेत दिया कि टीम दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ पहले टेस्ट में पांच गेंदबाजों की रणनीति के साथ बरकरार रहेगी। ये पूछने पर कि क्या चार गेंदबाजों को खिलाना टीम के लिए वर्कलोड मैनेजमेंट की समस्या बन जाती है तो उन्होंने सकारात्मक जवाब दिया।

राहुल ने कहा, ‘‘प्रत्येक टीम टेस्ट मैच जीतने के लिए 20 विकेट झटकना चाहती है। हम भी इस रणनीति का इस्तेमाल कर चुके हैं और इससे हमने विदेश में जो भी मैच खेले हैं, प्रत्येक में मदद मिली है।’’

इस सीनियर सलामी बल्लेबाज ने स्पष्ट किया कि चौथा तेज गेंदबाज खेलेगा, उन्होंने कहा, ‘‘पांच गेंदबाजों से वर्कलोड को मैनेज करने में भी थोड़ी आसानी हो जाती है और जब आपके पास इस तरह का कौशल (भारतीय टीम में) तो मुझे लगता है कि हम इसका इस्तेमाल भी कर सकते हैं।’’