सचिन ने बीसीसीआई की तारीफ की © IANS
सचिन ने बीसीसीआई की तारीफ की © IANS

दुनिया के महान बल्लेबाज सचिन तेंदुलकर ने स्पष्ट किया कि उच्चतम न्यायालय का फैसला लंबित होने के कारण लोढ़ा समिति की सिफारिशों पर प्रतिक्रिया देना ‘अनुचित होगा’, लेकिन बीसीसीआई का समर्थन करते हुए उन्होंने कहा कि बोर्ड ने देश में खेल के लिए काफी कुछ किया है। सचिन ने बीसीसीआई की तारीफ करते हुए कहा कि बीसीसीआई ने खेल को नई उचाईयों पर पहुंचा दिया है।

तेंदुलकर ने यहां एक कार्यक्रम के दौरान कहा कि मेरा निजी अहसास है कि जब मैं बड़ा हो रहा था तो मुझे बीसीसीआई से काफी समर्थन मिला। बीसीसीआई और मुंबई क्रिकेट संघ ने काफी शिविरों का इंतजाम किया। तेंदुलकर ने कहा कि टीम के सभी 14 सदस्यों को स्कूल क्रिकेट में खेलने की स्वीकृति देने के उनके सुझाव के बाद 1800 अतिरिक्त बच्चों को प्रतिस्पर्धी क्रिकेट खेलने का मौका मिलेगा।  ये भी पढ़ें: भारतीय टीम के मुख्य गेंदबाजों को दिया जा सकता है आराम

इस महान बल्लेबाज ने कहा, ‘मैंने स्कूल क्रिकेट पर एमसीए को सुझाव दिया था और उन्होंने इसे लागू किया। बीसीसीआई ने समर्थन किया और खिलाड़ियों का ख्याल रखा और हमें प्रगति करने का पर्याप्त मौका दिया, लेकिन वह यहां तक ही नहीं रुका। सभी लोग परफेक्ट नहीं होते लेकिन इन चीजों में सुधार हो सकता है।’ आपको बता दें कि बीसीसीआई उिलहाल सुप्रीम कोर्ट के निशाने पर है और सुप्रीम कोर्ट लगातार बीसीसीआई की कार्यशैली पर नजर बनाए हुए है। ऐसे में सचिन ने बीसीसीआई की तारीफ कर बीसीसीआई को थोड़ी राहत जरूर दे दी है।