© Getty Images
© Getty Images

सचिन तेंदुलकर ने विराट कोहली की टेस्ट टीम को आने वाले दस सालों तक के लिए फिट बताया। बीसीसीआई के 500वें टेस्ट के जश्न में शामिल होने कानपुर आए सचिन ने स्टार स्पोर्टस से बातचीत में कहा कि मौजूदा टीम में कई युवा खिलाड़ी है, जो काफी लंबे समय तक क्रिकेट खेल सकते है। ये टीम आने वाले 8-10 सालों में क्रिकेट की दुनिया पर राज करेगी। भारतीय टीम का ये महान बल्लेबाज जिसने भारत के लिए 200 टेस्ट मैच खेले हैं, मौजूदा टीम कॉम्बिनेशन से काफी खुश है। तेंदुलकर ने कहा कि टीम में बल्ले और गेंद का अच्छा संतुलन दिख रहा है। चयनकर्ताओं को इन खिलाड़ियों को लगातार मौके देने चाहिए। जाहिर है टीम में कुछ बदलाव तो होंगे लेकिन अगर खिलाड़ी फिटनेस को बनाए रखें तो ये टीम के लिए फायदेमंद होगा।

संयोंजकों को खेल में बल्लेबाज और गेंदबाजों का संतुलन बनाए रखने पर जोर देना चाहिए। तेंदुलकर ने आगे कहा कि क्रिकेट में बल्ले और गेंद का संतुलन बहुत जरूरी है। पर इस समय खेल पूरी तरह बल्लेबाजों का है। टी20 में बल्लेबाज गेंदबाजों पर हावी रहते है। वहीं वनडे में भी आजकल 300 भी सेफ टारगेट नहीं माना जा सकता है। ऐसे में कोई तो एक फार्मेट हो जहां गेंदबाजों की हुकूमत चलती हो।

टीम इंडिया के सबसे सफल बल्लेबाज ने पिच को टिपकल कानपुर विकेट बताते हुए कहा कि न्यूजीलेंड के बाद में बैटिंग करने से भारतीय टीम को फायदा मिलेगा। टेस्ट क्रिकेट में स्कोर करने से ज्यादा पिच पर पांच दिन तक टिकना जरूरी होता है। जहां खिलाड़ी की फिटनेस की परीक्षा होती है। 500वें टेस्ट के मौके पर सचिन ने कहा कि इस स्वर्णिम इतिहास का एक हिस्सा होने के नाते मेरा मानना है कि क्रिकेटर आगे आने वाली एक पूरी पीढ़ी को प्रेरित कर रहे है।