Sachin Tendulkar, VVS Laxman conflict of interest case will be key issue in discussion with COA
sachin Tendulkar, VVS Laxman

सचिन तेंदुलकर और वीवीएस लक्ष्मण के कथित हितों के टकराव के मामले में प्रशासकों की समिति (सीओए) उसी तरह से ‘पूर्ण खुलासे’ की सिफारिश कर सकती है जैसा कि उसने पूर्व कप्तान सौरव गांगुली के मामले में किया गया था।

पढ़ें:- BCCI ने भी माना- सचिन, गांगुली और लक्ष्‍मण को किया जा रहा है जानबूझ कर तंग

बीसीसीआई के लोकपाल डी के जैन ने लक्ष्मण और तेंदुलकर को नोटिस भेजकर उन्हें आईपीएल फ्रेंचाइजी टीमों के मेंटर और क्रिकेट सलाहकार समिति (सीएसी) के सदस्य के रूप में भूमिका को लेकर कथित हितों के टकराव के मामले में लिखित जवाब देने के लिये कहा है।

पढ़ें:- IPL 2019: अंपायर गेंद को अपनी जेब में रखकर भूले, रुका रहा मैच

सीएसी के तीनों सदस्य हितों के टकराव मामले के दायरे में आ गये हैं। ऐसे में सीओए इस समिति के भविष्य को लेकर चर्चा करेंगे। सीओए की 27 अप्रैल को बैठक होगी जिसमें कई मसलों पर चर्चा होगी। इसमें तेंदुलकर और लक्ष्मण से जुड़े मामले में जवाब देने पर भी चर्चा होने की संभावना है। इन दोनों को 28 अप्रैल को अपना जवाब देना होगा।

गांगुली और तेंदुलकर अपनी फ्रेंचाइजी टीमों के लिये ‘स्वैच्छिक आधार’ पर काम कर रहे हैं जबकि लक्ष्मण के सनराइजर्स हैदराबाद के साथ पेशेवर संबंधों की शर्तों का पता नहीं चल पाया।