Sandeep Patil says players these day are only saving themselves for the IPL
Chennai Super Kings (File Photo) @ IANS

भारतीय टीम के पूर्व खिलाड़ी और सिलेक्‍शन समिति के चेयरमैन रह चुके संदीप पाटिल (Sandeep Patil) का मानना है कि इस वक्‍त खिलाड़ी केवल खुद को आईपीएल के लिए बचा कर रखना चाहते हैं।

भारत अब विश्‍व कप के बाद जुलाई में वेस्‍टइंडीज के खिलाफ अपना अगला टेस्‍ट मैच खेलेगा। टाइम्‍स ऑफ इंडिया से बातचीत के दौरान संदीप पाटिल ने कहा, “चार दिवसीय घरेलू क्रिकेट का महत्‍व काफी तेजी से नीचे गया है। बड़े खिलाड़ियों के नहीं खेलने के कारण घरेलू क्रिकेट को काफी नुकसान हुआ है। हमारे समय में ईरानी और दिलीप ट्रॉफी में प्रदर्शन टीम में चयन का पैमाना होता था। चयनकर्ता इन मैचों के बाद ही टीम चयन करते थे।”

पढ़ें:- ‘राजनीतिक स्थिति बेहतर होने तक पाकिस्तान से नहीं खेलेगा भारत’

इस बार ईरानी कप का आयोजन रणजी सीजन के खत्‍म होने के तुरंत बाद हो रहा है। जिसके कारण विदर्भ को शेष भारत के खिलाफ मैच में उमेश यादव(Umesh Yadav) और वसीम जाफर (Wasim Jaffer) जैसे बड़े खिलाड़ियों के बिना ही उतरना पड़ा। पिछले साल दोनों घरेलू टूर्नामेंट के बीच करीब दो महीने का अंतर था। आने वाले समय में आईपीएल और विश्‍व कप 2019 जैसे बड़े आयोजनों के कारण खिलाड़ी घरेलू क्रिकेट से दूरी बनाए हुए हैं।

पढ़ें:- सरफराज के बाद अब फखर जमां ने दी द. अफ्रीकी गेंदबाज को ‘गाली’

संदीप पाटिल ने कहा, “खिलाड़ियों को खुद ही आगे आकर इस बारे में बात करनी चाहिए। आजकर खिलाड़ी खुद को आईपीएल के लिए सुरक्षित रखना चाहते हैं।ऑस्‍ट्रेलिया की टीम भारत में कुछ ही सीमित ओवरों के मैच खेलेगी। जिस गति से और जिस दिशा में आज के युग का क्रिकेट जा रहा है उसे देखते हुए इस टूर्नामेंट को दोबारा जीवित करना काफी मुश्किल हो गया है।”

”अब वो इन मैचों पर ज्‍यादा ध्‍यान नहीं देते हैं। 4-5 साल पहले मैंने इस विषय पर बोर्ड के समक्ष अपनी बात रखी थी। जबतक आप अपने घरेलू क्रिकेट पर ध्‍यान नहीं दोगे, आपको अच्‍छे खिलाड़ी नहीं मिल पाएंगे। अगर दूसरी श्रेणी के खिलाड़ी ही घरेलू क्रिकेट खेलते रहेंगे तो फिर चयनकर्ता किसे चुनेंगे। एक समय था जब हमारे पास अच्‍छे रिप्‍लेसमेंट उपलब्‍ध रहते थे।”