Sanjay Manjrekar believes T20 captain Harmanpreet Kaur exaggerating coach Ramesh Powar role in the team
Ramesh Power with women team

महिला वर्ल्‍ड टी-20 के दौरान टीम की सबसे सीनियर खिलाड़ी मिताली राज का कोच रमेश पोवार के साथ विवाद थमने का मान नहीं ले रहा है। दोनों पक्षों ने इस मामले में खुलकर एक दूसरे के खिलाफ मोर्चा खोला हुआ है। इस मामले में अब टी-20 टीम की कप्‍तान हरमनप्रीत कौर के बीसीसीआई काे लिखे पत्र ने आग में घी डालने का काम किया।

रमेश पोवार का महिला टीम के कोच पद पर अनुबंध 30 नवंबर को खत्‍म हो गया है। हरमनप्रीत कौर ने बीसीसीआई को पत्र लिखकर ये मांग की है कि रमेश पोवार का अनुबंध बढ़ाया जाना चाहिए। भारतीय टीम के पूर्व खिलाड़ी संजय मांजरेकर ने हरमनप्रीत के रुख पर कड़ी प्रतिक्रिया दी है

उन्‍होंने ट्विटर पर लिखा, “हरमनप्रीत को ये याद रखना चाहिए कि भारतीय महिला टीम ने विश्‍व कप के फाइनल में जगह बनाई थी। उस वक्‍त रमेश पोवार टीम के साथ नहीं थे। वो फाइनल मुकाबला लगभग जीत ही गए थे। रमेश पोवार को पद से हटा दिए गया है जैसा बयान देकर वो टीम में उनकी भूमिका काे बढ़ा चढ़ा कर पेश कर रही हैं।”

महिला वर्ल्‍ड टी-20 के दौरान संजय मांजरेकर कमेंट्री कर रहे थे। इंग्‍लैंड के खिलाफ सेमीफाइनल मैच में उतरी भारतीय टीम में मिताली राज को प्‍लेइंग इलेवन में जगह नहीं दी गई थी। भारतीय टीम ये मैच हार गई थी। मांजरेकर ने उस वक्‍त भी मिताली को टीम से बाहर किए जाने की खुलकर आलोचना की थी।

हरमनप्रीत कौर ने बीसीसीआई को लिखे अपने पत्र में कहा, “मैं टी-20 टीम की कप्‍तान और वनडे टीम की उपकप्‍तान होने के नाते रमेश पोवार का कार्यकाल बढ़ाने की अपील कर रही हूं। उनकी कोचिंग में टीम को काफी फायदा मिला है। अगले टी-20 विश्‍व कप को 15 महीने का वक्‍त बचा है। एक महीने के अंदर न्‍यूजीलैंड का दौरा भी है। मुझे उन्‍हें बदलने के पीछे कोई कारण नजर नहीं आता है।”