Sarfraz Ahmed: We will try to gain momentum in first match and play against India with full preparation
Sarfraz Ahmed © AFP (File Photo)

15 सितंबर से यूएई में होने वाले एशिया कप में लंबे समय के बाद भारत और पाकिस्तान टीमें एक दूसरे के खिलाफ खेलती नजर आएंगी। दोनों देशों के क्रिकेट फैंस इस मुकाबले को लेकर उत्साहित है। एशिया के इस महा मुकाबले की तैयारियों के बारे में बात करते हुए पाक टीम के कप्तान सरफराज अहमद ने कहा, “मूमेंटम सबसे ज्यादा अहम है।”

लाहौर में पाकिस्तान टीम के अभ्यास कैंप के खत्म होने के बाद सरफराज ने कहा, “चैंपियंस ट्रॉफी के दौरान हमने दक्षिण अफ्रीका और श्रीलंका के खिलाफ मिले मूमेंटम को आगे बढ़ाया था। यहां भी हम वही करने की कोशिश करेंगे। हम पहले मैच में मूमेंटम हासिल करेंगे और भारत के खिलाफ मैच में पूरी तैयार के साथ उतरेंगे।”

पाकिस्तान टीम आखिरी बार भारत के खिलाफ इंग्लैंड के हुई चैंपियंस ट्रॉफी के फाइनल में खेलती नजर आई थी। इंग्लैंड में खेले गए फाइनल मैच में पाकिस्तान ने टीम इंडिया को हराकर पहली बार चैंपियंस ट्रॉफी जीती थी। हालांकि सरफराज का मानना है कि इस मैच का नतीजा अब मायने नहीं रखता है।

पाकिस्तानी कप्तान ने कहा, “भारत के खिलाफ हर मैच अहम है। वो मैच अब भूतकाल हो गया है। ये करीबन एक-डेढ़ साल पहले की बात है। इसलिए मुझे नहीं लगता कि हम उसे मैच के बारे में इतना सोचेंगे। अगर हम फाइनल में इंडिया के खिलाफ खेलेंगे तो ये तीसरा मौका होगा। सभी पेशेवर टीमें भूतकाल को पीछे छोड़कर आगे की सोचती हैं। दोनों टीमें ऐसा ही करेंगी।”

पाक टीम के लिए यूएई घरेलू मैदान की तरह है। उनके पास यहां क्रिकेट खेलने का अच्छा खासा अनुभव है। हालांकि सीमित फॉर्मेट में पाकिस्तान टीम का रिकॉर्ड यहां उतना अच्छा नहीं है। टीम के सीनियर खिलाड़ी शोएब मलिक ने भी यही बात कही थी। इस बारे में सरफराज ने कहा, “यहां का मौसम गर्म है, इसलिए लाइट्स के नीचे बल्लेबाजी करना मुश्किल हो जाता है क्योंकि तेज गेंदबाजों को नमी में स्विंग मिलती है। हम हालात में ढलने की कोशिश करेंगे। हमने एक-दो सेशन लाइट्स में खेले हैं। जाहिर है हर टीम पहले बल्लेबाजी कर बोर्ड पर लगाने की सोचेगी।”

यूएई की पिचों के बारे में सरफराज ने कहा, “यूएई की पिचें धीमी हैं इसलिए स्पिन गेंदबाजों की अहम भूमिका होगा। हमारे बल्लेबाज और गेंदबाज टॉप फॉर्म में हैं। अगर हम पहले बल्लेबाजी करते हैं तो हम 300 से ज्यादा रन बनाने की सोचेंगे क्योंकि हमारा गेंदबाजी अटैक हम स्कोर को बचा सकता है। हम किसी एक पक्ष पर ज्यादा ध्यान नहीं दे रहे हैं। हम खेल के तीनों पक्षों पर ध्यान दे रहे हैं और अच्छा प्रदर्शन करने की कोशिश कर रहे हैं।”