Scotland allrounder Con de Lange diagnosed with brain tumour
Con de Lange @Getty

क्रिकेट स्कॉटलैंड ने ब्रेन ट्यूमर से जूझ रहे अपने बाएं हाथ के स्पिनर कोन दे लांज के लिए फंड जमा करने के लिए अपील जारी की है। 37 साल के स्पिनर के घरवालों ने इस सप्ताह के अंत में बताया कि लांज को ब्रेन ट्यूमर है। वेबसाइट ईएसीपएनक्रिकइंफो की रिपोर्ट के मुताबिक, लांज 2017 से ही स्कॉटलैंड की टीम से बाहर चल रहे थे। तब टीम के अधिकारियों ने उनके टीम में शामिल न होने पर प्रतिक्रिया देने से इनकार कर दिया था।

2019 विश्व कप क्वालीफायर से पहले टीम की घोषणा के वक्त यह जरूर बताया गया था कि लांज बीमारी से जूझ रहे हैं। क्रिकेट स्कॉटलैंड ने सोमवार को एक बयान में कहा है कि लांज को तकरीबन 10 महीने पहले से ब्रेन ट्यूमर है। इस दौरान वह कई सर्जरी से गुजरे हैं। उन्होंने ऑपरेशन, रेडिएशन और कीमोथैरेपी भी कराई है।

बोर्ड के मुख्य कार्यकारी मैल्कम केनन ने बयान में कहा, “क्रिकेट स्कॉटलैंड लांज और उनके परिवार का समर्थन करना जारी रखेगा। हमने उनकी इच्छाओं को इस मुश्किल समय के दौरान गोपनीय रखा है।”

उन्होंने कहा, “लांज ने स्कॉटलैंड में खेल के लिए काफी कुछ किया है और वह टीम की सबसे चर्चित हस्तियों में से एक हैं। हम उनके मदद अभियान को घर और विदेशों में क्रिकेट परिवार के ले जाकर खुश हैं। हम जानते हैं कि इस काम में हमें काफी समर्थन मिलेगा।”

लांज ने अपना आखिरी वनडे 25 नवंबर को पापुअ न्यू गिनी के खिलाफ खेला था जिसमें वह टीम के उप-कप्तान थे।