युवराज सिंह के रणजी में प्रदर्शन को देखते हुए चयनकर्ता उन्हें मौका दे सकते हैं © Getty Images
युवराज सिंह के रणजी में प्रदर्शन को देखते हुए चयनकर्ता उन्हें मौका दे सकते हैं © Getty Images

भारत और न्यूजीलैंड के बीच सीरीज 1-1 की बराबरी पर है और अब सीरीज का तीसरा मैच मोहाली में खेला जाएगा। मैच के बाद चयनकर्ता बाकी बचे दो मैचों के लिए टीम का चुनाव करेंगे आपको बता दें कि चयनकर्ताओं ने इससे पहले तीन वनडे के लिए टीम का चुनाव किया था। अब जब सीरीज एक-एक की बराबरी पर है तो तीसरा मैच काफी अहम रहने वाला है। तीसरे मैच में कई खिलाड़ियों पर गाज गिर सकती है और कई नए खिसाड़ियों को मौका दिया जा सकता है। तो आइए नजर डालते हैं ऐसे ही खिलाड़ियों पर जिन्हें अंतिम दो वनडे में मौका दिया जा सकता है।

5. करुन नायर :

करुन नायर को इसी साल जिम्बाब्वे दौरे के लिए टीम में चुना गया था। नायर बाकी बचे दो मैचों में टीम में चुने जा सकते हैं। नायर ने 2015-16 के रणजी ट्रॉफी में शानदार प्रदर्शन किया था और 7 मैचों में 500 रन बनाए थे। इसके बाद नायर ने आईपीएल 2016 में भी बेहतरीन खेल दिखाया था। जहां 12 मैचों में नायर ने 357 रन बनाए थे। ऐसे में सीरीज में बचे बाकी दो मैचों के लिए नायर को टीम में चुना जा सकता है।

4. युजवेंद्र चहल:

हरियाणा के लेग स्पिनर युजवेंद्र चहल ने अपना पदार्पण जिम्बाब्वे दौरे पर किया था। हालांकि चहल ने घरेलू सत्र में कोई प्रभावी प्रदर्शन नहीं किया है लेकिन आईपीएल में चहल ने अपने प्रदर्शन से सभी को काफी प्रभावित किया था। चहल ने ऑस्ट्रेलिया दौरे पर भारत ए की तरफ से अच्छा खेल दिखाया था जहां चहल ने 4 मैचों में सात विकेट हासिल किए थे। ऐसे में बाकी बचे दो वनडे के लिए चहल भारतीय टीम में शामिल किए जा सकते हैं।

3. अंबाती रायडू:

अंबाती रायडू इस साल जिम्बाब्वे दौरे पर भारतीय टीम का हिस्सा रह चुके हैं। 31 साल के रायडू ने अब तक 34 वनडे मैचों में 50 की औसत से रन बनाए हैं। रायडू ने जिम्बाब्वे के खिलाफ पहले ही मैच में अर्धशतक लगाया था, लेकिन इसके बाद रायडू को ज्यादा बल्लेबाजी का मौका नहीं मिला। 2015 विश्वकप में रायडू को भारतीय टीम में रखा गया था लेकिन धोनी ने उन्हें एक भी मैच में नहीं खिलाया। और जब दक्षिण अफ्रीका सीरीज के दौरान जब रायडू को मौका मिला तो वह अपनी छाप छोड़ने में नाकामयाब साबित हुए। भारतीय टीम में जब एक मध्यक्रम में जगह दिख रही है तो रायडू को अंतिम एकादश में जगह मिल सकती है।

2. कुलदीप यादव:

सबने सोचा था कि दिलीप ट्रॉफी में शानदार खेल की बदौलत न्यूजीलैंड के खिलाफ टेस्ट सीरीज में कुलदीप यादव को मौका जरूर मिलेगा, लेकिन कुलदीप को टेस्ट सीरीज में नहीं चुना गया। उसके बाद सोचा गया कि भारतीय वनडे टीम में कुलदीप यादव को मौका दिया जाएगा लेकिन एक बार फिर कुलदीप दिर्भाग्यशाली रहे और वनडे टीम में जगह बनाने से चूक गए। कुलदीप यादव ने घरेलू सत्र और आईपीएल दोनों में अपनी चमक बिखेरी थी। ऐसे में अपने शानदार प्रदर्शन की दम पर कुलदीप को चयनकर्ता बाकी बचे दो वनडे मैचों में खेलने का मौका दे सकते हैं।

1. युवराज सिंह:

भारतीय टीम के हरफनमौला खिलाड़ी युवराज सिंह ने ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ टी-20 सीरीज से भारतीय टीम में वापसी की थी और उसके बाद टी-20 विश्व कप तक लगभग हर सीरीज में भारतीय टीम का हिस्सा रहे। हाल ही में रणजी में युवराज के प्रदर्शन को देखते हुए चयनकर्ता उन्हें मौका दे सकते हैं। रणजी के राउंड टू में युवराज ने पहली पारी में शतक और दूसरी पारी में अर्धशतक ठोका था। ऐसे में उम्मीद की जा सकती है कि युवराज सिंह को चयनकर्ता बाकी बचे दो वनडे के लिए टीम में मौका दें।