Senior Indian Cricketer violates ‘family clause’ rule during World Cup 2019
Team India@BCCI twitter

भारतीय क्रिकेट टीम का एक वरिष्ठ सदस्य विश्व कप के दौरान बीसीसीआई के ‘परिवार संबंधित’ नियमों के उल्लघंन करने के लिए सवालों के घेरे में आ गया है। विश्‍व कप में टीम इंडिया सेमीफाइनल में बाहर हो गई थी।

पढ़ें: टीएनपीएल युवाओं के लिए शानदार मंच : केदार जा

इस खिलाड़ी ने अपनी पत्नी के लिए 15 दिन अनुमेय अवधि से अधिक समय तक साथ रहने का अनुरोध किया था, लेकिन नियम बनाने वाली प्रशासकों की समिति (सीओए) ने इससे इनकार कर दिया था।

खिलाड़ी ने 7 सप्‍ताह पत्‍नी को साथ रखा 

अब पता चला है कि इस खिलाड़ी की पत्नी टूर्नामेंट के दौरान पूरे 7 हफ्ते तक उनके साथ रही जबकि इसके लिए कप्तान या फिर कोच से अनुमति नहीं ली गई थी।

पीटीआई को मिले दस्तावेजों के अनुसार सीओए ने तीन मई को हुई बैठक में इस मुद्दे पर चर्चा की थी और इस अनुरोध को स्वीकृति नहीं दी थी। इसकी जानकारी रखने वाले बीसीसीआई सूत्र ने नाम नहीं बताने की शर्त पर पीटीआई को पुष्टि की कि यह उल्लघंन निश्चित रूप से हुआ था।

पढ़ें: लिमिटेड डीआरएस आंखों में धूल झोंकने जैसा : BCCI

अधिकारी ने कहा, ‘हां, तीन मई को हुई बैठक में इसी खिलाड़ी को अनुमति नहीं दी गई थी, उसने विश्व कप के दौरान 15 दिन के नियम का उल्लघंन किया है। अब यहां सवाल उठता है कि इस खिलाड़ी ने अपनी पत्नी को अतिरिक्त दिनों तक साथ रखने के मद्देनजर योग्य अधिकारियों से इस मामले में कोच या कप्तान से अनुमति ली थी। तो इसका जवाब ‘नहीं’ है।’

अभी मामले को सीओए को रिपोर्ट किया जाना है

इस मामले को अभी सीओए को रिपोर्ट किया जाना है, पर सवाल यह है कि प्रशासनिक मैनेजर सुनिल सुब्रमण्यम ने इसकी जानकारी क्यों नहीं दी जबकि यह मसला उनके उनके अधीन आता था।

एक अन्य वरिष्ठ बीसीसीआई अधिकारी ने कहा, ‘सुनील सुब्रमण्यम क्या कर रहे थे? उनका काम टीम के ट्रेनिंग सत्र का निरिक्षण करना नहीं था। कोच, कप्तान और अन्य सहयोगी स्टाफ इस इंतजाम को देख रहे थे। उम्मीद है कि सीओए इस मामले का संज्ञान लेगा और मैनेजर से रिपोर्ट मांगेगा।’

सुब्रमण्यम से इस मामले पर बात नहीं की जा सकी है।