Screen grab from Facebook Video
Screen grab from Facebook Video

17 साल का पाकिस्तानी गेंदबाज शाहीन शाह आजकल सुर्खियों में छाया हुआ है। उसने हाल ही में पाकिस्तान के प्रीमियर फर्स्ट क्लास टूर्नामेंट कायद-ए-आजम ट्रॉफी के साथ डेब्यू किया है। हाल ही में सोशल मीडिया पर उनकी एक वीडियो वायरल हुई थी जिसमें शाहीन 145 किमी./घंटा की रफ्तार से गेंदबाजी करते नजर आ रहे थे। यह युवा गेंदबाज गेंद को स्विंग कराने में भी माहिर है। वहीं रफ्तार के साथ वह और घातक साबित हो रहे हैं। अपने पहले फर्स्ट क्लास मैच में खान रिसर्च लेबोरेटरीज टीम की ओर से खेलते हुए शाहीन ने मैच की दूसरी पारी में रावलपिंडी के खिलाफ  8 विकेट झटके।

उन्होंने पहली पारी में 19 ओवरों में 45 रन देकर 1 विकेट लिया था। लेकिन दूसरी पारी में आठ विकेट लेते हुए उन्होंने सबको हैरान कर दिया। उनका दूसरी पारी में गेंदबाजी विश्लेषण  15-6-39-8 रहा जो फर्स्ट क्लास डेब्यू में किसी भी पाकिस्तानी गेंदबाज का सबसे बढ़िया विश्लेषण है। इस दौरान 17 साल के इस गेंदबाज ने नदीम मलिक के रिकॉर्ड को तोड़ दिया जिन्होंने साल 1973/74 में 24.3 ओवरों में 58 रन देकर 8 विकेट अपने डेब्यू मैच में झटके थे।

[ये भी पढ़ें: हार्दिक पांड्या के छक्के से घायल हुआ शख्स, ले जाना पड़ा अस्पताल]

उन्होंने इस कारनामे को अंजाम पहली पारी में दिया था। इस दौरान नदीम लाहौर रेड्स की ओर से खेले थे। लेकिन उनके इस चमत्कारी प्रदर्शन के बावजूद उनकी टीम को हार का सामना करना पड़ा था। जबकि नदीम ने दूसरी पारी में भी 7 विकेट झटके थे। शाहीन शाह फर्स्ट क्लास डेब्यू में आठ विकेट लेने वाले तीसरे पाकिस्तानी गेंदबाज बन गए। गौरतलब है कि पाकिस्तान में तेज गेंदबाजों का इतिहास रहा है। वकार यूनिस, शोएब अख्तर से लेकर मोहम्मद आमिर ने रफ्तार से ही बल्लेबाजों के पसीन छुटाए हैं।

जिस तरह से यह गेंदबाज गेंदबाजी करते हुए नजर आ रहा है उसे देखते हुए अगर यह अगले 5 से 6 सालों में पाकिस्तान टीम में जगह बनाए तो इसमें कोई दो राय नहीं है। पिछले साल एक अन्य पाकिस्तानी तेज गेंदबाज यासिर जेन को लेकर खबरें सुनने को मिली थीं। यह गेंदबाज पाकिस्तान की एक क्रिकेट एकेडमी में लगातार 145 किमी./घंटा की रफ्तार से गेंदबाजी कर रहा था। इस गेंदबाज का एक्शन दक्षिण अफ्रीका के मशहूर तेज गेंदबाज डेल स्टेन जैसा था। यही नहीं यह गेंदबाज दोनों हाथों से गेंदें फेंकने में माहिर था। हालांकि, उसके बाद इस गेंदबाज का कुछ पता नहीं चला