शाहिद अफरीदी © AFP
शाहिद अफरीदी © AFP

पाकिस्तान के पूर्व कप्तान शाहिद अफरीदी ने अफगानिस्तान में होने वाली शपाजीजा टी20 क्रिकेट लीग से अपना नाम वापस ले लिया है। अफरीदी ने पारिवारिक कारणों के चलते अपना नाम लीग से वापस ले लिया। शाहिद अफरीदी ने इसका ऐलान अपने ट्विटर अकाउंट पर किया। उन्होंने लिखा, ‘मैं अफगानिस्तान सरकार का शुक्रगुजार हूं जिन्होंने मुझे क्रिकेट लीग के लिए निमंत्रण दिया लेकिन पारिवारिक कारणों के चलते मैं नहीं आ पाऊंगा। भविष्य में मैं इस शानदार टूर्नामेंट का हिस्सा जरूर बनूंगा। मैं क्रिकेट के जरिए दो देशों की बीच शांति स्थापित करने के हक में हूं।’

शाहिद अफरीदी के अफगानिस्तान की टी20 में लीग में ना जाने की वजह कहीं ना कहीं पीसीबी भी है। दरअसल जब से अफरीदी ने शपाजीजा लीग में खेलने का ऐलान किया था तभी से पीसीबी के अधिकारी उनसे नाराज चल रहे थे। पीसीबी ने अफरीदी से एनओसी ना लेने का आरोप भी लगाया था। जियो टीवी की खबर के मुताबिक पीसीबी शाहिद अफरीदी के शपाजीजा टी20 क्रिकेट लीग में खेलने के फैसले से नाखुश थी। चैनल को पीसीबी ने बताया कि उसने अफरीदी को बिग बैश लीग और ऑस्ट्रेलिया की घरेलू टी20 लीग में खेलने की इजाजत दी थी लेकिन पीसीबी को अफरीदी ने शपाजीजा लीग में खेलने की मंजूरी नहीं दी है। आईसीसी वर्ल्ड इलेवन के खिलाफ मुकाबले से पहले सरफराज खान, मोहम्मद आमिर का बड़ा बयान

आपको बता दें पीसीबी और अफगानिस्तान क्रिकेट बोर्ड के रिश्ते अच्छे नहीं हैं। कुछ समय पहले अफगान क्रिकेट बोर्ड ने पाकिस्तान को आतंक को पनाह देने वाला देश बताकर उनके साथ क्रिकेट खेलने से मना कर दिया था। जिसके बाद पाकिस्तान क्रिकेट बोर्ड ने एसीबी से माफी की मांग की थी। इस घटना के बाद से ही दोनों देशों के रिश्ते में तल्खी आ गई। अफगानिस्तान में शपाजीजा टी20 लीग का आगाज 11 सितंबर से हो रहा है। ये लीग 22 सितंबर तक खेली जाएगी। कई बड़े खिलाड़ी इस लीग के लिए काबुल पहुंच चुके हैं। पाकिस्तान के पूर्व ऑलराउंडर अब्दुर रज्जाक भी इस लीग में खेलते दिखेंगे। द.अफ्रीका के पूर्व ओपनर हर्शेल गिब्स इस लीग में कोचिंग के रोल में हैं।