Shai Hope is the best option West Indies has in all three formats, says Brian Lara
शाई होप (IANS)

वेस्टइंडीज दिग्गज ब्रायन लारा का मानना है कि चेन्नई वनडे में भारत के खिलाफ नाबाद शतक जड़ने वाले शाई होप तीनों फॉर्मेट में विंडीज टीम के सर्वश्रेष्ठ विकल्प हैं। होप के शतक और शिमरोन हेटमायर के साथ उनकी रिकॉर्ड साझेदारी के दम पर भारत ने पहले मैच में भारत को 8 विकेट से हराया।

दिल्ली में एक कार्यक्रम के दौरान पूर्व क्रिकेटर ने कहा, “अभी मुझे लगता है कि बल्लेबाजों को देखेंगे तो शाई होप खेल के तीनों फॉर्मेट में विंडीज के पास सबसे अच्छा विकल्प हैं। वो ज्यादा बुरे आक्रामक खिलाड़ी नहीं हैं, अच्छे टेस्ट खिलाड़ी हैं। वो अच्छा करेंगे।”

उन्होंने कहा, “निकोलस पूरन, हेटमायर और यहां तक कि ब्रेंडन किंग टीम की नई खोज हैं। ये ऐसे खिलाड़ी हैं जिन्हें आप किसी भी तरह मोड़ सकते हैं। मुझे लगता है कि ये लोग अन्य खिलाड़ियों की अपेक्षा ज्यादा परिपक्व होंगे। कुछ खिलाड़ी होते हैं जो जल्दी परिपक्व हो जाते हैं जैसे कि सचिन तेंदुलकर जो 16 साल की उम्र में ही परिपक्व हो गए थे और कार्ल हूपर, वो भी जल्दी परिपक्व हो गए थे। जीवन में अगर देर से परिपक्वता आती है तो बुरी बात नहीं है।”

चेन्नई वनडे में दिखा भारतीय जमीन पर स्पिन गेंदबाजों का सबसे खराब प्रदर्शन

विंडीज के नए कप्तान कीरोन पोलार्ड ने हाल ही में कहा था कि विंडीज की टीम का लक्ष्य वनडे में बेहतर बनना है। लारा को लगता है कि अगर पोलार्ड को सपना सच करना है तो टीम को मध्य के ओवरों में समय लेने की जरूरत है।

उन्होंने कहा, “मैं उस दौर में वापस जा सकता हूं जब हम खेला करते थे। मैं काफी हद तक छोटे कद खिलाड़ी था, काफी ताकतवर नहीं और मुझे लगता है कि वनडे मैचों ने मुझे अच्छे से परिपक्व होने में मदद की है। मध्य के ओवर काफी अहम होते हैं। जब आप 20 ओवर या 50 ओवर के खेल की तुलना करते हो तो इनमें काफी अंतर है। कुछ खिलाड़ी हर गेंद को मारने के बारे में सोचते हैं। आपको समझना होगा कि ये सात घंटों का मैच है और इसमें काफी कुछ हो सकता है।”

ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ टेस्ट सीरीज से बाहर हुए लोकी फर्ग्यूसन

लारा को लगता है कि अगर विंडीज की टीम को मजबूत बनना है तो विंडीज के चयनकर्ताओं को युवा खिलाड़ियों को समय और सुरक्षा देनी होगी ताकि वो बिना डर के खेल सकें। उन्होंने कहा, “वेस्टइंडीज को समझना होगा और धैर्य रखना होगा। आपको ये बात सुनिश्चित करना होगी कि आप हर समय सही चीज मुहैया कराएं। आपके खिलाड़ी अगर टीम से अंदर-बाहर होते रहे तो आत्मविश्वास खो देंगे। उन्हें पता होना चाहिए कि खिलाड़ियों में प्रतिभा है और इनका साथ दिया जाए।”

भारत के खिलाफ सीरीज के बाद बढ़ेगा आत्मविश्वास

लारा ने कहा कि भारत के खिलाफ खेली गई सीरीज में विंडीज के लिए सबसे अच्छी बात उसकी बल्लेबाजी रही जबकि गेंदबाजी पर टीम को काम करने की जरूरत है।

बाएं हाथ के पूर्व बल्लेबाज ने कहा, “मुझे लगता है कि वो जानते हैं कि अनुभव के साथ बल्लेबाजी बेहतर हो जाएगी। हां, गेंदबाजी में उन्हें थोड़ा बदलाव करने की जरूरत है ताकि सही कॉम्बिनेशन को पहचाना जा सके। उम्मीद है कि इस सीरीज से वो काफी कुछ सीखेंगे और उन्हें इससे आत्मविश्वास मिलेगा। विश्व कप में नौ-दस महीनों का समय बचा है और मुझे पूरी उम्मीद है कि विंडीज अपने आप को वहां अच्छे से प्रदर्शित करेगी।”

विंडीज क्रिकेट को आगे ले जाएंगे पोलार्ड

लारा को लगता है कि पोलार्ड का अनुभव टीम के युवा खिलाड़ियों के बेहद जरूरी होगा। उन्होंने कहा, “पोलार्ड को बड़ा काम दिया गया है। उन पर कप्तान के तौर पर एक बड़ी जिम्मेदारी है। उनके पास पूरी दुनिया में खेलने का अनुभव है इसलिए उनके पास मौका है कि वो वेस्टइंडीज क्रिकेट को कुछ दें। मुझे लगता है कि युवा खिलाड़ियों पर उनका सकारात्मक प्रभाव पड़ेगा।”

ब्रावो का फिट होना जरूरी

हाल ही में संन्यास से वापसी करने वाले ऑलराउंडर खिलाड़ी ड्वेन ब्रावो के बारे में पूर्व कप्तान ने कहा, “मैं जानता हूं कि वो संन्यास से वापसी कर रहे हैं और वो एक बार फिर चयन के लिए उपलब्ध होंगे। वो हमेशा से शानदार खिलाड़ी रहे हैं, लेकिन उन्हें फिट रहना होगा। टीम के पास युवा खिलाड़ियों का अच्छा समूह है।”