शाकिब अल हसन © Getty Images
शाकिब अल हसन © Getty Images

बांग्लादेश के स्टार ऑलराउंडर शाकिब अल हसन बड़ी मुश्किल में फंस सकते हैं क्योंकि उनपर ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ चटगांव टेस्ट में गेंद से छेड़छाड़ का आरोप लग रहा है। सोशल मीडिया पर चटगांव टेस्ट का एक वीडियो वायरल हो रहा है जिसमें शाकिब अल हसन गेंद को मैदान पर रगड़ते हुए दिख रहे हैं। पुरानी गेंद को मैदान पर घिसने का ये वीडियो भले ही मैच रेफरी की नजरों में नहीं आया लेकिन क्रिकेट फैंस की नजरों से ये नहीं बच सका।

ऑस्ट्रेलियाई मीडिया में शाकिब अल हसन की इस हरकत को खासा उछाला जा रहा है। ऑस्ट्रेलियाई मीडिया आईसीसी से इस फुटेज की जांच की मांग कर रही है। देखना ये है कि आईसीसी इस मामले पर क्या फैसला लेती है। वैसे बांग्लादेश ने चटगांव टेस्ट 7 विकेट से गंवा दिया था। बांग्लादेश ने पहला टेस्ट जीता था और दूसरा टेस्ट वो हार गया, जिसकी वजह से सीरीज 1-1 से बराबरी पर खत्म हुई। टॉस ‘हेराफेरी’ की आईसीसी से शिकायत करेगा श्रीलंका क्रिकेट बोर्ड-सूत्र

पहले भी हुई है गेंद से छेड़छाड

शाकिब अल हसन पहले खिलाड़ी नहीं हैं जिन पर गेंद से छेड़छाड़ का आरोप लग रहा है। इससे पहले 1994 में इंग्लैंड के पूर्व कप्तान माइक एथर्टन गेंद से छेड़छाड़ के मामले में दोषी पाए गए थे। 2001 में सचिन तेंदुलकर पर भी पोर्ट एलिजाबेथ टेस्ट में गेंद से छेड़छाड़ का आरोप लगा था लेकिन बाद में मैच रेफरी ने उन्हें क्लीन चिट दे दी थी। 2010 में एंडरसन और स्टुअर्ट ब्रॉड पर भी केपटाउन टेस्ट में बॉल टेंपरिंग के आरोप लगे थे। हाल ही में द.अफ्रीका के कप्तान फाफ डु प्लेसी भी ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ होबार्ट टेस्ट में बॉल टेंपरिंग के दोषी पाए गए थे।