© Getty Images
© Getty Images

बांग्लादेश के ऑलराउंडर शाकिब अल हसन मौजूदा बांग्लादेश प्रीमियर लीग में अपनी गेंद से कहर बरपा रहे हैं। वह इस साल ढाका डाइनामाइट्स की कप्तानी कर रहे हैं। हाल ही में उन्होंने रंगपुर राइडर्स के खिलाफ 5 विकेट झटके। इसके साथ ही वह उन गेंदबाजों की जमात में शामिल हो गए हैं जिनके नाम टी20 क्रिकेट में 3 या उससे ज्यादा बार पांच विकेट लेने का रिकॉर्ड दर्ज है।

लसिथ मलिंगा के ही नाम टी20 क्रिकेट में उनसे ज्यादा 4 बार पांच विकेट लेने का रिकॉर्ड दर्ज है। वैसे ये चीजें तो शाकिब अल हसन के फैंस के लिए अच्छी और उत्साह बढ़ाने वाली हैं। लेकिन जो हरकत उन्होंने पिछले मैच में की है उसने उन्हें परेशानी में डाल दिया है। कॉमिला विक्टोरियंस के खिलाफ मैच में, जब शाकिब की एक गेंद पर की गई अपील को अंपायर ने नकार दिया तो उन्होंने अंपायर को अभद्र भाषा में कुछ कह डाला।

यह वाकया कॉमिला विक्टोरियंस के 9वें ओवर का है। इमरुल काएस बल्लेबाजी कर रहे थे और शाकिब गेंदबाजी के लिए आए। शाकिब की गेंद इमरुल के पैड पर लगी और इसके बाद शाकिब ने जोरदार अपील की, अंपायर ने जब शाकिब की अपील नकार दी तो खिसियाए हुए शाकिब अंपायर के बेहद करीब पहुंच गए और अपनी निराशा व्यक्त करते हुए जोर से हाथ झिड़क दिया। इस दौरान उन्होंने अपशब्द भी कहे और गुस्से में फुंफकारते हुए चले गए। अंपायर ने उन्हें शांत रहने को कहा लेकिन शाकिब को उनका गुस्सा जाहिर करने से कोई नहीं रोक पाया।

वैसे शाकिब के इस व्यवहार ने उन्हें समस्या में डाल दिया है। इसके चलते उनकी मैच फीस के 50 प्रतिशत काट लिए गए हैं। वह बीसीबी कोड ऑफ कंडक्ट के लेवल 2 ऑफेंस के दोषी पाए गए। शाकिब के अलावा इसी मैच में कॉमिला विक्टोरियंस के गेंदबाज हसन अली को भी ढाका डाइनामाइट्स के बल्लेबाज मोसाद्देक हसन को गलत व्यवहार का दोषी पाया गया।