Shame that some players are not interested in playing for West Indies says Carl Hooper
chris gayle @ians

वेस्टइंडीज के पूर्व कप्तान कार्ल हूपर ने रविवार को भारत के खिलाफ तीन टी-20 मैचों की सीरीज के पहले मैच में मिली हार के बाद कहा कि सीनियर खिलाड़ियों का टीम से न खेलना शर्मनाक है। विस्फोटक सलामी बल्लेबाज क्रिस गेल ने वनडे सीरीज से पहले खुद को चयन के लिए उपलब्ध कराने से इंकार कर दिया जबकि इविन लुईस निजी कारणों के चलते टीम का हिस्सा नहीं बने।

सुनील नरेन और आंद्रे रसेल चोट के कारण टी-20 टीम का हिस्सा नहीं हैं। हूपर ने कहा, “यह शर्मनाक है कि कुछ खिलाड़ियों को वेस्टइंडीज के लिए खेलने में दिलचस्पी नहीं है। मुझे नहीं पता कि उन्हें टीम के लिए खेलने में क्यों दिलचस्पी नहीं है लेकिन यह बात साफ है कि वह खेलना नहीं चाहते।”

भारत ने टेस्ट सीरीज को 2-0 और वनडे सीरीज को 3-1 से अपने नाम किया था। हूपर ने कहा, “यह एक युवा टीम है और खिलाड़ियों को थोड़ा समय चाहिए। अगर सीनियर खिलाड़ी टीम को हिस्सा होते तो भारत के लिए सीरीज जीतना इतना आसान नहीं होता।”

हूपर ने आगे कहा, “आईसीसी विश्व कप क्वालीफायर के फाइनल में हमें अफगानिस्तान के खिलाफ हार का सामना करना पड़ा। अगर हमारी पूरी टीम होती तो हम मैच जीत सकते थे।”

पर्वू कप्तान के मुताबिक, वेस्टइंडीज की मौजूदा टीम में निरंतरता की कमी है। हूपर ने कहा, “कुछ दिन हम अच्छा खेलते हैं। कुछ दिन हम स्थिति के अनुसार नहीं खेल पाते। हमें निरंतर अच्छा प्रदर्शन करने की जरूरत है।”