Shane Warne believes uncapped England leg-spinner Matt Parkinson to make an impact on the upcoming Ashes tour
शेन वार्न (AFP Photo)

पूर्व ऑस्ट्रेलियाई लेग स्पिनर शेन वार्न को उम्मीद है कि युवा इंग्लिश गेंदबाज मैट पार्किंसन आगामी एशेज सीरीज में प्रभावी प्रदर्शन कर सकेंगे चूंकि वो ऑस्ट्रेलियाई हालातों में खेलने के लिए परफेक्ट हैं।

24 साल के पार्किंसन को पाकिस्तान के वनडे सीरीज के दौरान इंग्लैंड के ओरिजिनल स्क्वाड में कोविड मामले मिलने के बाद बेन स्टोक्स की कप्तानी में चुने गए नए स्क्वाड में मौका मिला था। जिस दौरान वार्नर की लंकाशायर के इस गेंदबाज पर नजर पड़ी।

वार्न जो कि इंग्लैंड क्रिकेट बोर्ड के द हंड्रेड टूर्नामेंट में लंदर स्पिरिट टीम के कोच हैं, उनका मानना है कि ब्रिसबेन के गाबा मैदान की पिच पार्किंसंस के अनुकूल होगी।

West Indies vs Australia: वेस्टइंडीज और ऑस्ट्रेलिया की टीमों की कोरोना रिपोर्ट नेगेटिव; जल्द शुरू होगी सीरीज

ऑस्ट्रेलियाई दिग्गज ने कहा, “मुझे लगता है कि पार्किंसन बहुत अच्छा है। मुझे उसके गेंदबाजी करने का तरीका बेहद पसंद है और वो सीमित ओवर फॉर्मेट क्रिकेट टीम के लिए सही नया खिलाड़ी है लेकिन मैं उसे टेस्ट क्रिकेट में, खासकर कि ऑस्ट्रेलिया में बड़ी भूमिका निभाते देखता हूं।

वार्न ने आगे कहा, “मुझे हैरानी नहीं होगी अगर गाबा में होने वाले पहले मैच में वो प्लेइंग इलेवन का हिस्सा बने। मैं ऑस्ट्रेलियाई हालातों के बारे में सोचता हूं, जिस गति से वो गेंदबाजी करता है, उसे जिस तरह का उछाल और स्पिन मिलता है, मुझे लगता है कि वो ऑस्ट्रेलियाई हालातों के लिए आदर्श है।”

पूर्व क्रिकेटर ने ये भी कहा कि इंग्लैंड टीम भारत के खिलाफ 4 अगस्त से शुरू होने वाली पांच मैचों की सीरीज में भी पार्किंसन को मौका दे सकता है। उन्होंने कहा, “मुझे हैरानी नहीं होगी अगर इंग्लैंड टीम एशेज के बारे में सोचते हुए भारत के खिलाफ सीरीज के दौरान उसे आजमाए।”