Shane Watson to retire from Big Bash League; Calls time on his career in Australia
शेन वॉटसन (AFP)

पूर्व ऑस्ट्रेलियाई क्रिकेटर शेन वॉटसन ने ऑस्ट्रेलिया की मशहूर बिग बैश लीग से संन्यास लेने का ऐलान किया है। वॉटसन ने बीबीएल में सिडनी थंडर टीम के लिए खेलते हैं। सिडनी टीम के लिए खेले 42 मैचों में वॉटसन ने 1,058 रन बनाए और 20 विकेट लिए हैं।

साल 2016 में अंतर्राष्ट्रीय क्रिकेट से संन्यास लेने के बाद वॉटसन बीबीएल से जुड़े थे और अब तक चार सीजन खेल चुके हैं। 37 साल के वॉटसन बीबीएल छोड़ने के बावजूद विदेशी टी20 लीगों में खेलते रहेंगे। इसी के साथ ऑस्ट्रेलिया में वॉटसन के क्रिकेट करियर का अंत हुआ।

वॉटसन के इस फैसले पर क्रिकेट ऑस्ट्रेलिया के मुख्य अधिकारी केविन रॉबर्ट्स ने कहा, “शेन वॉटसन क्रिकेट के मैदान पर उतरने वाले सबसे रोमांचक शॉर्ट फॉर्मेट खिलाड़ियों में से एक थे। प्रतिभाशाली, कुशल और शक्तिशाली, शेन सबसे अच्छे बल्लेबाज थे। कुछ महीने पहले ही उन्होंने गाबा में ब्रिस्बेन हीट के खिलाफ थंडर के लिए सिर्फ 62 गेंदों में शतक बनाया था।”

ये भी पढ़ें: राजस्थान के खिलाफ हारकर छठें नंबर पर पहुंची कोलकाता टीम

रॉबर्ट्स ने आगे कहा, “लगभग दो दशक के करियर में शेन ने अंतर्राष्ट्रीय स्तर पर पहले ऑस्ट्रेलियाई क्रिकेट में और फिर घरेलू क्रिकेट में बिग बैश के महत्वपूर्ण खिलाड़ी के रूप में एक बड़ा योगदान दिया। उनकी सबसे बड़ी गुणवत्ता दृढ़ता थी, जो कई बार गंभीर चोटों का कारण बनी और उसकी गति को कम किया। वो एक अच्छा स्विंग और सीम गेंदबाज बन गया।”

उन्होंने कहा, “इन चोटों के बावजूद शेन ने काफी क्रिकेट खेला, सभी फॉर्मेट्स के 307 मैचों में ऑस्ट्रेलिया का प्रतिनिधित्व किया और कुल मिलाकर अंतरराष्ट्रीय और घरेलू क्रिकेट के 700 से अधिक मैच खेले, जिसमें 25,000 से अधिक रन बनाए और 600 से अधिक विकेट लिए। वो 1,000 से अधिक रन बनाने वाले एकमात्र सिडनी थंडर बल्लेबाज भी हैं। वो स्टीव वॉ के बाद ऑस्ट्रेलिया का सबसे सफल टेस्ट और वन-डे बल्लेबाजी ऑलराउंडर है। किसी भी अन्य ऑस्ट्रेलियाई ने किसी भी फॉर्मेट में कई रन और विकेट नहीं जोड़े हैं।”