वेस्टइंडीज की क्रिकेट टीम पिछले एक महीने से भारत के दौरे पर है. इस दौरान उसने अफगानिस्तान के खिलाफ तीन वनडे और इतने ही टी-20 मैंचों की सीरीज के साथ साथ एक टेस्ट मैच भी खेला. अब विंडीज टीम का सामना मेजबान भारत से होगा.

अभिमन्यु मिथुन के हैट्रिक सहित 5 विकेट हॉल से कर्नाटक खिताब से एक जीत दूर

भारत और वेस्टइंडीज के बीच तीन मैचों की टी-20 और 3 मैचों की वनडे सीरीज खेली जाएगी. इस सीरीज के लिए विंडीज के युवा ऑलराउंडर शेरफेन रदरफोर्ड ने कहा है कि इस समय उनकी टीम की नजर भारतीय पिचों से सामंजस्य बिठाने पर है.

दोनों टीमों के बीच 3 मैचों की सीरीज 6 दिसंबर को हैदराबाद में शुरू होगी. अगला मैच आठ दिसंबर को तिरूवनन्तपुरम जबकि आखिरी मैच 11 दिसंबर को मुंबई में खेला जाएगा.

रदरफोर्ड ने पत्रकारों से कहा, ‘मैं मौका मिलने से खुश हूं. तैयारियां अच्छी चल रही है. हमारे पास अभ्यास का पर्याप्त मौका है. पिछले कुछ दिनों से हम कड़ी मेहनत कर रहे हैं भारत के खिलाफ अपना सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन करने पर ध्यान दे रहे हैं.’

डे-नाइट टेस्ट में गरजा वॉर्नर और लाबुशेन का बल्ला, बना डाले सबसे बड़ी साझेदारी के रिकॉर्ड

उन्होंने कहा, ‘भारत के अधिकतर विकेट बल्लेबाजी के लिए अच्छे हैं. हम पिचों से सामंजस्य बिठाने की कोशिश कर रहे हैं. इससे हम अपने खेल में सुधार कर सकते हैं. मुझे नहीं लगता कि खिलाड़ी विश्व कप या आईपीएल के बारे में ज्यादा सोच रहे हैं. यह केवल अच्छे प्रदर्शन से जुड़ा है और फिर परिस्थितियां आपके अनुकूल होंगी.’

पोलार्ड और रसेल से गुर सीख रहे रदरफोर्ड

अफगानिस्तान के खिलाफ टी20 टीम के सदस्य रहे रदरफोर्ड ने कहा कि वह कप्तान कीरेन पोलार्ड और आंद्रे रसेल से गुर सीख रहे हैं.

उन्होंने कहा, ‘मध्यक्रम में मेरी भूमिका उन जैसी (पोलार्ड और रसेल) ही है. मैं उनके साथ काम कर रहा हूं. उनसे बात करता हूं और काफी कुछ सीख रहा हूं.’

रदरफोर्ड ने कप्तान पोलार्ड के बारे में कहा, ‘वह शांतचित कप्तान हैं जिससे आप बात कर सकते हो. वह ऐसा व्यक्ति है जो हमेशा आपकी बात सुनेगा. वह अभ्यास सत्र में एक अलग तरह की ऊर्जा लेकर आया है और खिलाड़ी उससे उम्मीद रखते हैं.’

गौरतलब है कि भारत ने हाल में बांग्लादेश से टेस्ट सीरीज खेली थी जहां उसने दो मैचों की सीरीज में मेहमान टीम का क्लीनस्वीप किया था.