Shikhar Dhawan: Being a Delhite, habituated to pollution
शिखर धवन के साथ कप्तान विराट कोहली भी दिल्ली के रहने वाले हैं © Getty Images

भारत बनाम श्रीलंका दिल्ली टेस्ट मैच विराट कोहली, दिनेश चांदीमल और एंजेलो मैथ्यूज की धमाकेदार पारियों के लिए नहीं बल्कि प्रदूषण की वजह से लगातार चर्चा में आ रहा है। मैच के चौथे दिन के खेल के बाद भारतीय बल्लेबाज शिखर धवन ने भी इस मामले पर आपत्तिजनक बयान दिया। धवन ने कहा, ‘‘दिल्ली में पले बढ़े होने के कारण हमें इसकी आदत है। इन महीनों में जब दूसरे राज्यों में फसल कटती है तो ऐसा होता है। धूप भी नहीं निकल रही, अगर धूप निकलती तो प्रदूषण कम हो जाता। प्रदूषण है लेकिन इतना नहीं है कि हमें खेलने से रोक दे।’’

धवन ने श्रीलंकाई खिलाड़ियों के लगातार स्मॉग की शिकायत के बारे में बात करते हुए कहा, ‘‘हो सकता है उन्हें इसकी आदत नहीं हो। हमारी टीम में भी कई खिलाड़ी दिल्ली के नहीं हैं जिन्हें इन हालात में खेलने की आदत नहीं है। यह हमारा काम है और हमारे काम के आगे कोई चीज नहीं आनी चाहिए, यही मेरी सोच है।’’

श्रीलंकाई खिलाड़ियों के लिए ये हालात एकदम अलग हैं

दिल्ली में नहीं होंगे आईपीएल मैच!
दिल्ली में नहीं होंगे आईपीएल मैच!

धवन ने माना कि श्रीलंका और भारत के मौसम में काफी फर्क है और इसी वजह से मेहमान टीम और ज्यादा परेशान हो रही है। उन्होंने कहा, ‘‘हो सकता है कि श्रीलंका में इतना प्रदूषण नहीं हो। वैसे भी वहां समुद्री तट बहुत ज्यादा हैं और जब आप तटीय शहर में होते हैं तो वहां वैसे भी प्रदूषण कम होता है। बेशक यहां प्रदूषण ज्यादा है। इस बात को मैं छिपाऊंगा भी नहीं क्योंकि जो है वो सामने है। फिर भी मुझे लगता है कि जो भी हमारा काम खेलना है, और वो हमें करना चाहिए।’’

दिल्ली के रहने वाले धवन ने कहा कि सर्दी में यहां प्रदूषण बढ़ जाता है, अगर मैच किसी और मौसम में होते तो इतनी परेशानी नहीं होती। बायें हाथ के इस बल्लेबाज ने कहा कि कल टीम मैच जीतने की पूरी कोशिश करेगी। भारत को जीत के लिए 7 विकेटों की जरूरत है।

ठीक हैं मोहम्मद शमी

श्रीलंका की दूसरी पारी के दौरान भारतीय तेज गेंदबाज मोहम्मद शमी को उल्टी करते हुए देखा गया। उनकी सेहत के बारे में धवन ने कहा, ‘‘शमी की तबीयत ठीक है और कल वो आपको मैदान पर दिखेगा।” मोहम्मद शमी और इशांत शर्मा की तारीफ करते हुए धवन ने कहा, ‘‘दोनों ने बहुत दम लगाकर गेंदबाजी की। काफी तेज गेंद की क्योंकि स्लिप में खड़े होने पर हमें यह महसूस हो रहा था। इन हालात में उन्होंने जिस तरह की गेंदबाजी की उन्हें पूरा श्रेय जाता है।’’