भारतीय क्रिकेट टीम के अनुभवी सलामी बल्लेबाजी शिखर धवन (Shikhar Dhawan) ने कई बार अपनी शानदार पारी के दम पर टीम इंडिया को जीत दिलाई है. धवन की बल्लेबाजी में आक्रमकता साफ झलकती है. उनका काम टीम इंडिया को तेज शुरुआत दिलाना होता है. वह कई बार इसमें सफल रहे हैं. कोविड-19 वैश्विक महामारी के चलते इस पूरी दुनिया में खेल की लगभग सभी प्रतियोगिताएं या तो स्थगित कर दी गई हैं या उन्हें रद्द कर दिया गया है. भारत सहित कई देशों में इस समय लॉकडाउन घोषित है. ऐसे में खिलाड़ी अपने घरों में कैद होने को मजबूर हैं.

एक हफ्ते घर पर रहने के बाद शिखर धवन को पड़ी हकीकत की मार; पत्नी आयशा करवा रही हैं सारे काम

धवन सहित कई ऐसे खिलाड़ी हैं जो इस समय सोशल मीडिया के जरिए अपने फैंस का खूब मनोरंजन कर रहे हैं. 34 वर्षीय बाएं हाथ के बल्लेबाज धवन ने खुलासा किया है कि किस तरह से उन्होंने अपने संगीत के स्वाद को बदला और इसका असर उनके खेल पर भी देखने को मिला.

टीम इंडिया के लाइफस्टाइल कोच और मोटीवेशनल स्पीकर गौड़ गोपाल दास (Gaur Gopal Das) से इंस्टाग्राम पर बातचीत में धवन ने कहा कि उनकी संगीत की पंसद का असर उनके खेल पर पड़ा है.

बकौल धवन, ‘हमें नकारात्मक टिप्पणियां मिलती हैं, लेकिन मैं कमेंट्स नहीं पढ़ता हूं. मैं पहले पंजाबी संगीत सुनता था जो आक्रामक होता था. लेकिन अब मैं इस तरह का संगीत नहीं सुनता और इसलिए शांत रहता हूं. संगीत का भी मुझ पर असर पड़ता है.’

धवन ने बताया ये दो बॉलीवुड अभिनेत्री हैं उनकी फेवरेट, नहीं मिस करते फिल्‍में

उन्होंने कहा, ‘यह जरूरी है कि आप दूसरी आवाजों से प्रभावित ना हों. मुझे याद है एक बार मैं आईपीएल में शून्य पर आउट हो गया था. पवेलियन लौटते समय मैंने अपने खुद से कहा कि मैंने क्या गलत किया, लेकिन मुझे तुरंत अहसास हुआ कि जितना मैं इसपर सोचूंगा उतना ही यह मेरे साथ रहेगा. अगले मैच में मैंने 97 रन की पारी खेली.’

गौरतलब है कि धवन का संगीत प्रेम जगजाहिर है. कभी वह बांसुरी बजाते हुए नजर आते हैं तो कभी प्रैक्टिस के दौरान उन्हें गुनगुनाते हुए भी देखा गया है.