Shoaib Akhtar irked with Babar Azam’s exclusion from ICC Teams of Decade
बाबर आजम (IANS)

पूर्व तेज गेंदबाज शोएब अख्तर ने आईसीसी की टी20 टीम ऑफ द डेकेड की आलोचना जिसमें पाकिस्तान के कप्तान बाबर आजम को जगह नहीं मिली है।

रावलपिंडी एक्सप्रेस के मुताबिक आईसीसी ने टी20 नहीं बल्कि इंडियन प्रीमियर लीग की टीम चुनी है। बता दें कि आईसीसी द्वारा चुनी गई इस दशक की वनडे, टेस्ट या टी20 किसी भी टीम (महिला और पुरुष) में पाकिस्तानी क्रिकेटर्स को जगह नहीं दी गई है।

अपने यू-ट्यूब चैनल पर पोस्ट किए गए वीडियो में अख्तर ने कहा, “मुझे लगता है कि आईसीसी भूल गया कि पाकिस्तान भी काउंसिल का सदस्य है और वो भी टी20 क्रिकेट खेलते हैं। उन्होंने बाबर आजम को नहीं चुना जो कि इस समय टी20 रैंकिंग में शीर्ष पर है। उन्होंने पाकिस्तान टीम से एक भी खिलाड़ी को नहीं चुना। हमें आईसीसी की टी20 टीम नहीं चाहिए क्योंकि आपने आईपीएल की टीम चुनी है विश्व क्रिकेट टीम नहीं।”

ICC Teams of the Decade: आईसीसी की टीम में पाकिस्तान के किसी खिलाड़ी जगह नहीं

पूर्व दिग्गज ने खुलकर आईसीसी की आलोचना की और कहा कि ये समिति केवल पैसों के लिए खेल को चला रही है। उन्होंने कहा, “आईसीसी केवल पैसों, स्पॉन्सरशिप और टीवी राइट्स के बारे में सोचती हैं। उन्होंने दो नई गेंदो और तीन पावरप्ले का नियम बनाया। डेनिस लिली, जेफ थॉमसन, वेस्टइंडीज के पांच बड़े तेज गेंदबाज, वसीम (अकरम) और वकार (यूनिस) कहां हैं? दुनिया के सबसे तेज गेंदबाज और लेग स्पिनर कहां हैं? वो चले गए क्योंकि आईसीसी ने क्रिकेट का इतना ज्यादा व्यावसायीकरण कर दिया है और पैसों के लिए दस लीगों को अनुमति दे दी है।”

उन्होंने कहा, “उन्हें केवल तीन साल में दो विश्व कप और लीग चाहिए। आज के क्रिकेट और 70 के दशक के क्रिकेट में बड़ा फर्क है। अगर सचिन बनाम शोएब का मुकाबला नहीं है तो फिर क्रिकेट देखने का क्या मतलब?”

अख्तर ने आगे कहा, “टी20 में बाबर आजम जितना बड़ा कोई खिलाड़ी नहीं है। वो पाकिस्तान का सर्वोच्च रन स्कोरर है और उसका औसत ये दर्शाता है कि उसने देश के लिए क्या किया है, विराट कोहली के मुकाबले में भी। ये शर्मनाक है और मुझे यकीन है कि ये वीडियो देखने के बाद वो लोग समझेंगे कि उन्हें विश्व क्रिकेट की टीम चुननी है, आईपीएल की नहीं।”