Shreays Iyer, Manish Pandey will keep KL Rahul on his toes for number-4 slot, says Sourav Ganguly

लगातार खराब प्रदर्शन की वजह से हाल ही में भारतीय टेस्ट टीम से बाहर हुए शीर्ष क्रम बल्लेबाज केएल राहुल की जगह अब सीमित ओवर फॉर्मेट टीम में भी निश्चित नहीं है। श्रेयस अय्यर और मनीष पांडे जैसे बल्लेबाजों के टीम में वापस आने से बाद राहुल को नंबर चार का अपना स्पॉट बचाने के लिए कड़ी मेहनत करनी होगी। ऐसा कहना है पूर्व भारतीय कप्तान सौरव गांगुली का।

भारत के सबसे सफल कप्तानों में से एक गांगुली ने टाइम्स ऑफ इंडिया के अपने कॉलम में लिखा, “शीर्ष क्रम में रोहित और शिखर की सर्वश्रेष्ठ सलामी जोड़ी के रहते केएल राहुल को नीचे भेजा जाएगा। वो अनिरंतर फॉर्म की वजह से टेस्ट क्रिकेट में पहले ही अपनी जगह खो चुका है ऐसे में अगर उसे नंबर चार के स्पॉट पर कब्जा बनाए रखना है तो और श्रेयस और मनीष जैसे खिलाड़यों से कड़ी टक्कर का सामना करना होगा।”

बता दें कि इन तीनों ही खिलाड़ियों को दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ टी20 सीरीज के लिए भारतीय टीम में जगह मिली है। गांगुली इन युवा खिलाड़ियों को टी20 स्क्वाड में जगह दिए जाने से खुश हैं लेकिन वो चाहते हैं टी20 विश्व कप पर ज्यादा ध्यान ना देकर इन युवा खिलाड़ियों को लगातार मौके दिए जाएं।

पाकिस्तान दौरे के लिए अब भी तैयार हैं श्रीलंका बोर्ड लेकिन रक्षा मंत्रालय की हरी झंडी का इंतजार

उन्होंने लिखा, “सबसे जरूरी बात है कि भारत अगले साल होने वाले टी20 विश्व कप की ओर ना देखे। पिछले (वनडे) विश्व कप से पहले उसे लेकर काफी शोर था और कभी कभी ये अच्छा नहीं होता। टीम इंडिया को जरूरत है कि संभावित सर्वश्रेष्ठ खिलाड़ियों को चुनें और उन्हें लगातार मौके दें क्योंकि घरेलू सर्किट में फिलहाल काफी प्रतिभावान खिलाड़ी हैं।”

पूर्व कप्तान ने लिखा, “विराट, रोहित, धवन, हार्दिक और जडेजा ने अपनी पहचान बना ली है और अब युवा खिलाड़ियों के टीम को अगले स्तर पर ले जाने की बारी है। गेंदबाजी अटैक में कुछ कमाल के विकल्प हैं। खलील अहमद, दीपक चाहर और नवदीप सैनी अच्छे दिख रहे हैं और टीम को उनका ध्यान रखना होगा ताकि वो बुमराह की तरह परिपक्व हो सकें।”

IND vs SA: जीत के साथ टी20 सीरीज का आगाज करना चाहेगा भारत

उन्होंने आगे लिखा, “समय और परिपक्वता के साथ ये खिलाड़ी बुमराह, भुवी और शमी को अपने आदर्श की तरह देखेंगे और ये टीम इंडिया के तेज गेंदबाजी अटैक के लिए अच्छा संकेत होगा। राहुल चाहर, वाशिंगटन सुंदर, कुलदीप और चहल जैसे स्पिनर भी सभी को तैयार रखेंगे।”