Smith and Warner’s leadership will be crucial for us to win : Justin Langer
Steve Smith @IANS

बॉल टैंपरिंग में दोषी पाए जाने के बाद क्रिकेट ऑस्ट्रेलिया द्वारा लगाए गए 1 साल के प्रतिबंध के बाद पूर्व कप्तान स्टीव स्मिथ और डेविड वार्नर ने ऑस्ट्रेलिया की टीम में वापसी की है। दोनों के टीम में वापस लौटने से विश्व कप में डिफेंडिंग चैंपियन की विश्व कप दावेदारी मजबूत हुई है।

ऑस्ट्रेलिया के मुख्य कोच जस्टिन लैंगर ने कहा है कि स्मिथ और वार्नर को विश्व कप के दौरान टीम के अंदर ही कुछ जिम्मेदारियां दी जाएंगी।

ऑस्ट्रेलिया ने विश्व कप से पहले अपने ट्रेनिंग सेशन का आगाज किया। वार्नर और स्मिथ एक साल बाद टीम में आ रहे हैं। क्रिकेट डॉट कॉम डॉट एयू की रिपोर्ट के मुताबिक, स्मिथ हालांकि अभ्यास सत्र में नहीं आए। बुखार के कारण वह होटल में ही रहे।

पढ़ें:- स्मिथ लौटे ऑस्ट्रेलिया, रहाणे को दोबारा मिली राजस्थान की कमान

लैंगर ने कहा, “मैंने हमेशा नेतृत्व की बात की है चाहें वो किसी नाम से हो या बेनाम हो। हम चाहते हैं कि हमारे सभी खिलाड़ी लीडर हों।”

लैंगर ने कहा, “वह दोनों अपने आप में लीडर हैं। इसलिए हम मैदान के अंदर और बाहर उनके अनुभवों का लाभ उठाना चाहेंगे।”

पढ़ें:- ‘IPL के प्रदर्शन से धोनी, कोहली, हार्दिक को विश्व कप में फायदा होगा’

स्मिथ ने 51 वनडे में ऑस्ट्रेलिया की कप्तानी की है। बॉल टैंपरिंग विवाद के कारण उन पर कप्तानी करने से दो साल का प्रतिबंध लगा है, लेकिन वार्नर पर कप्तानी से अजीवन प्रतिबंध लगा दिया गया है।

लैंगर ने कहा, “यह दोनों काफी बड़े खिलाड़ी हैं। उन्होंने 12 महीने काफी मेहनत की है। इन दोनों के लिए काफी चुनौतियां होंगी।”