Smriti Mandhana: Personal Milestones are great but winning the World Cup is my childhood dream
SMRITI MANDHANA (IANS)

पिछले महीने आईसीसी महिला वनडे रैंकिंग में दुनिया की नंबर एक खिलाड़ी बनी स्मृति मंधाना का कहना है कि विश्व कप जीतना ही हर खिलाड़ी का सपना होता है। मंधाना कप्तान हरमनप्रीत कौर की गैर मौजूदगी में सोमवार से इंग्लैंड के खिलाफ शुरू हो रही तीन मैचों की टी20 सीरीज में भारत की अगुआई करेंगी। स्मृति ने कहा कि उनका लक्ष्य शीर्ष पर कायम रहना और विश्व खिताब जीतना है।

ये भी पढ़ें: ताहिर-नगिडी की शानदार गेंदबाजी, 231 पर ढेर हुई श्रीलंका

गुवाहाटी में होने वाले टी20 मैच से पहले स्मृति ने कहा, ‘‘एक बच्चे के रूप में जब आप खेलना शुरू करते हो तो आप हमेशा विश्व कप जीतने के बारे में सोचते हो। बेशक आईसीसी विश्व रैंकिंग में नंबर एक बनना जैसे निजी लक्ष्य भी होते हैं और इसे हासिल करना काफी संतोषजनक है लेकिन अब मुझे और कड़ी मेहनत करनी होगी। वहां पहुंचने से अधिक महत्वपूर्ण वहां बने रहना है। एक बल्लेबाज के रूप में सबसे अहम आईसीसी रैंकिंग में शीर्ष स्थान हासिल करना है। निश्चित तौर पर ये मेरे लिए निजी  लक्ष्यों में से एक है लेकिन निश्चित तौर पर मेरा बड़ा लक्ष्य विश्व कप जीतना है।’’

ये भी पढ़ें: इंग्लैंड के खिलाफ टी20 सीरीज में भारत की निगाहें विश्व कप की तैयारी पर

स्मृति ने कहा कि उन्होंने पहले ही टी20 विश्व कप के लिए तैयारियां शुरू कर दी हैं और अगले छह से आठ महीने में टीम कॉम्बिनेशन को लेकर काफी कुछ तय हो जाएगा। उन्होंने कहा, ‘‘मैंने और रमन सर (कोच डब्ल्यूवी रमन) ने उन चीजों पर बात की जिनकी कमी न्यूजीलैंड दौरे पर खली और साथ ही अगले विश्व कप के लिए अपने बल्लेबाजी क्रम पर भी चर्चा की। इसलिए ये काफी रोमांचक समय है क्योंकि हमारे पास इतनी युवा टीम है। हमें ये देखने के लिए कि सभी खिलाड़ी किस स्तर पर हैं, छह से आठ महीने इंतजार करना होगा।’’

टीम में हरमनप्रीत की जगह लेनी वाली आलराउंडर हरलीन देओल के बारे में पूछने पर स्मृति ने कहा, ‘‘मुझे लगता है कि ये चयनकर्ताओं का फैसला है लेकिन मुझे लगता है कि वो शानदार खिलाड़ी है और टी20 फॉर्मेट के लिए परफेक्ट आलराउंडर है।’’