Smriti Mandhana talk about women’s Indian Premier League
भारतीय स्टार महिला बल्लेबाज स्मृति मंधाना.

भारत की स्टार ओपनर स्मृति मंधाना (Smriti Mandhana) को लगता है कि देश के अंदर क्रिकेट में इतनी गहराई है कि छह टीमों का महिला आईपीएल कराया जा सकता है, जिससे भारतीय टीम की बेंच स्ट्रेंथ भी मजबूत होगी. 25 वर्षीय मंधाना ने कहा कि टी20 लीग के आने से पुरुषों के गेम में घरेलू खिलाड़ियों की क्वालिटी में सुधार हुआ है और यही महिला क्रिकेट में भी हो सकता है.

उन्होंने कहा कि पुरुष और महिला टीमों के बराबर राज्य है. ऐसे में जब पुरुषों का आईपीएल शुरू हुआ तो तब भी बराबर राज्य थे, लेकिन साल दर साल क्वालिटी बेहतर होती चली गई. मांधना यहां पर रविचंद्रन अश्विन के साथ उनके यूटयूब चैनल पर बात कर रही थी.

मंधाना ने कहा कि आज आईपीएल क्या है, 10 या 11 साल पहले ऐसा नहीं था. यही महिला क्रिकेट के साथ है, हमारे पास कुछ ही लड़कियां हैं जो क्रिकेट खेल रही हैं.

बकौल मंधाना, “अभी मुझे लगता है कि हम छह टीमों के साथ आईपीएल की शुरूआत कर सकते हैं और आगे इसको आठ टीम में तब्दील किया जा सकता है, लेकिन अभी हमने शुरूआत नहीं की है तो हम कुछ कह नहीं सकते.”

मंधाना को लगता है कि लीग से महिलाओं को सही एक्सपोजर मिलेगा जो उनके खेल को सुधारने में जरूरी है. पांच से छह टीम के साथ हम शुरूआत कर सकते हें, लेकिन आठ टीम पर मैं पूरी तरह से पक्का नहीं कह सकती हूं, लेकिन मुझे लगता है कि हमें पांच या छह टीम से जरूर शुरुआत करनी चाहिए?, जिससे हमें भविष्य में आठ टीम मिल सकती हैं.

उन्होंने कहा कि मुझे लगता है कि अगर हम शुरुआत नहीं करते हैं तो हमारी लड़कियों को भी अपने क्रिकेट को अलग स्तर तक पहुंचाने का मौका नहीं मिलेगा. महिलाओं का बिग बैश लीग होने से ऑस्ट्रेलियाई टीम की बेंच स्ट्रेंथ मजबूत हुई है. ऐसा ही कुछ महिलाओं के आईपीएल से भारतीय टीम के साथ हो सकता है.

मंधाना ने कहा, “मैं चार साल पहले बिग बैश खेली थी लेकिन अब इसकी क्वालिटी अलग है. आप देख सकते हैं कि क्रिकेट ऑस्ट्रेलिया पास 40-50 क्रिकेटरों का पूल है, जो कभी भी इंटरनेशनल क्रिकेट के लिए तैयार हैं.”

उन्होंने ने कहा, “ऐसा ही कुछ मैं भारतीय क्रिकेट के साथ होता देखना चाहती हूं. मुझे लगता है कि आईपीएल इसमें बड़ा योगदान दे सकता है. मौजूदा समय में बीसीसीआई महिला टी20 चैलेंज आयोजित करता है जिसमें तीन टीम खेलती हैं.” (आईएएनएस)