बांग्‍लादेश के खिलाफ भारत के पहले डे-नाइट टेस्‍ट में दर्शकों की संख्‍या से बीसीसीआई के नए अध्‍यक्ष सौरव गांगुली काफी खुश हैं. गांगुली का मानना है कि कोलकाता के ईडन गार्डन में खेले गए इस डे-नाइट टेस्‍ट मैच को देखकर उन्‍हें विश्‍व कप की याद आ गई.

पढ़ें:- रवींद्र जडेजा को लेकर विराट का बड़ा बयान, “जब जड्डू टीम में हो तो कोई भी उसे…”

भारतीय टीम ने डे-नाइट टेस्‍ट में मेहमान बांग्‍लादेश पर पारी और 46 रन से बड़ी जीत दर्ज की. विराट एंड कंपनी की यह टेस्‍ट में लगातार चौथी पारी के अंतर वाली जीत है. सौरव गांगुली ने मैच के सफल आयोजन के बाद न्‍यूज एजेंसी आईएएनएस से बातचीत के दौरान कहा, “आप, आस-पास देखिए (प्रशंसकों को दिखाते हुए). क्या आपने यह देखा है? आपने कब आखिरी टेस्ट मैच में इतने दर्शक देखे थे? मुझे ऐसा लग रहा है कि मानों यह विश्व कप का फाइनल हो.”

सौरव गांगुली ने कहा , “मेरे लिए यह शानदार अहसास है. अच्छा महसूस होता है. अगर आप मुझसे पूछेंगे तो इसने मेरी 2001 की यादें फिर ताजा कर दी हैं. इसी तरह टेस्ट क्रिकेट होनी चाहिए, खचाखच भरे स्टेडियम.”

पढ़ें:- Test Championship: ENG पर पारी से जीत के साथ NZ की बड़ी छलांग, AUS को पछाड़ बनी…

राहुल द्रविड़ से जब दिन-रात टेस्ट मैच खेलने के बारे में पूछा गया था तो उन्होंने कहा था कि वह इसे खेलना पसंद करते. द्रविड़ की यह बात गांगुली को खुशी देती है? इस पर गांगुली ने कहा, “यह उनका बड़प्पन. जब आपकी टीम के साथी आपकी तारीफ करते हैं तो यह निश्चित तौर पर अच्छा लगता है. यह बात उन्होंने कही है इसलिए यह विशेष है. मैं बेहद खुश हूं. हां, यह संतोषजनक अहसास है.”

क्या गांगुली भी गुलाबी गेंद के युग में होना मिस करते हैं?, “आप यह नहीं कह सकते क्योंकि हमारे समय में हमारे पास सब कुछ था. जब हम खेल रहे थे तब टी-20 आया ही था और अब देखिए यह किस तरह से आगे बढ़ रहा है और अब यह है. इसलिए आप इस तरह नहीं सोच सकते.”

गांगुली से जब पूछा गया कि क्या यहां से चीजें और बड़ी और बेहतर होंगी? उन्‍होंने कहा, “भविष्य के बारे में कहना जल्दबाजी होगा. हम सभी बैठेंगे और चर्चा करेंगे. लेकिन जरा सोचिए, अगर आपके पास इंग्लैंड, दक्षिण अफ्रीका, ऑस्ट्रेलिया जैसी टीमें हैं और आप उनके साथ गुलाबी गेंद से खेल रहे हैं, सोचिए दर्शकों को क्या देखने को मिलेगा.”