south african former cricketer lonwabo tsotsobe accuses greame smith of racial bias
ग्रीम स्मिथ @GraemeSmith49Twitter

Racial Bias Allegations on Graeme Smith: क्रिकेट जगत में एक बार फिर नस्लवाद का मुद्दा उठता दिख रहा है. इस बार साउथ अफ्रीका के पूर्व दिग्गज कप्तान और वर्तमान में साउथ अफ्रीका क्रिकेट के निदेशक ग्रीम स्मिथ (Greame Smith) इसमें घिरते दिख रहे हैं. स्मिथ की कप्तानी में खेल चुके पूर्व तेज गेंदबाज लोंवाबो सोत्सोबे (Lonwabo Tsotsobe) ने स्मिथ पर आरोप लगाया है कि उन्होंने अपनी कप्तानी के दौरान एक अश्वेत खिलाड़ी थामी सोलेकिले का सिलेक्शन रोके रखा था.

सोत्सोबे ने क्रिकेट साउथ अफ्रीका को स्मिथ के खिलाफ 7 पन्नों का एक दस्तावेज सौंपा है. इसमें उन्होंने विस्तार से अपनी बात रखी है, जिसमें कहा गया है कि थामी सोलेकिले का टीम में चयन स्मिथ ने ही रोककर रखा था. इसके बाद एबी डिविलियर्स को विकेटकीपर की जिम्मेदारी दी गई, जबकि डिविलियर्स विशेषज्ञ विकेटकीपर भी नहीं थे. लेकिन स्मिथ ने यह सब इसलिए किया, ताकि एक अश्वेत खिलाड़ी को टीम में आने से रोका जा सके.

सोत्सोबे ने इस दस्तावेज में आगे कहा, ‘सोलेकिले को मार्क बाउचर के बदले टीम में आना था. लेकिन अचानक से डिविलियर्स को विकेटकीपर बना दिया गया जबकि डीविलियर्स इसके विशेषज्ञ भी नहीं थे. लेकिन डिविलियर्स को विकेटकीपर इसलिए बनाया गया, क्योंकि सोलेकिले जैसे अश्वेत खिलाड़ी का चयन रोका जा सके. ऐसा स्मिथ की वजह से हुआ, जिन्होंने कहा था कि अगर सोलेकिले का चयन हुआ तो वह तत्काल प्रभाव से संन्यास ले लेंगे.’

सोत्सोबे ने 2009 से 2014 तक साउथ अफ्रीका के लिए 9 टेस्ट, 94 वनडे और 18 टी20 खेले हैं. स्मिथ फिलहाल क्रिकेट दक्षिण अफ्रीका के क्रिकेट निदेशक हैं और उन्होंने 2003 से 2014 तक टीम की कप्तानी की है.