south african players in ipl will return home undergo quarantine
एनरिच नोखिया और कगिसो रबाडा @Twitter

इंडियन प्रीमियर लीग (IPL 2021) के 14वें सीजन के स्थगित होने के बाद साउथ अफ्रीकी खिलाड़ी आराम से अपने घर लौट सकते हैं. भारत में इन दिनों कोरोना वायरस महामारी की दूसरी लहर तांडव मचा रही है. इस घातक वायरस ने जैव सुरक्षित माहौल में खेली जा रही टी20 लीग आईपीएल में भी दस्तक दे दी. बीते दो दिनों में 4 टीमों के बायो बबल में यह वायरस एंट्री ले चुका था, जिसके बाद बीसीसीआई ने अपनी इस महत्वकांक्षी टी20 लीग को तत्काल प्रभाव से स्थगित करने का फैसला लिया.

लीग स्थगित होने के बावजूद ऑस्ट्रेलियाई खिलाड़ी अपने देश नहीं लौट सकते हैं. लेकिन साउथ अफ्रीकी खिलाड़ियों को स्वदेश लौटने में कोई दिक्कत नहीं होगा. वे आराम से साउथ अफ्रीका जा सकते हैं लेकिन उन्हें यहां कुछ दिन क्वॉरंटीन में रहना अनिवार्य होगा. क्रिकेट साउथ अफ्रीका (CSA) ने मंगलवार को इसकी पुष्टि की.

IPL में फिलहाल अहमदाबाद और दिल्ली लेग के मैच आयोजित हो रहे थे. लगभग एक ही समय पर इन दोनों शहरों में बनाए गए बायो बबल में छेद हो गए और कई खिलाड़ी वायरस की चपेट में आ गए. ऐसे में फिलहाल इस लीग को अनिश्चितकाल के लिए स्थगित कर दिया गया है.

सीएसए ने कहा, सीएसए टूर्नामेंट में शामिल सभी लोगों के स्वास्थ्य और सुरक्षा हितों को सबसे पहले रखने के निर्णय का समर्थन करता है और सभी साउथ अफ्रीकी खिलाड़ियों की शीघ्र यात्रा सुनिश्चित करने के लिए सभी संबंधित फ्रेंचाइजी से संपर्क किया है.’

बयान में आगे कहा गया है, साउथ अफ्रीका की यात्रा करने वाले लोग वर्तमान विश्व स्वास्थ्य संगठन की सिफारिशों के अनुरूप घरेलू क्वॉरंटीन से गुजरेंगे. सीएसए और साउथ अफ्रीकी क्रिकेटर्स असोसिएशन (SACA) सभी खिलाड़ियों के संपर्क में हैं और उन्हें अपने संबंधित स्थानों में उनकी सुरक्षा और आराम का आश्वासन दिया जाता है.

इस बीच कंगारू खिलाड़ी फिलहाल स्वदेश नहीं लौट सकते हैं. ऑस्ट्रेलिया सरकार ने 15 मई तक भारत की यात्रा करने वाले नागरिकों के देश में एंट्री करने पर प्रतिबंध लगाया हुआ है. अगर कोई भी नागरिक इस प्रतिबंध को तोड़ने की कोशिश करेगा तो उसे जेल हो सकती है. ऐसे में कंगारू खिलाड़ियों के पास प्रतिबंध समाप्त होने तक या तो भारत में ही रुकने का विकल्प है या फिर वे किसी तीसरे देश की यात्रा पर जा सकते हैं.