डिकवेला और गुणाथिलका के शतक  © Getty Images
डिकवेला और गुणाथिलका के शतक © Getty Images

हंबनटोटा में खेले गए तीसरे वनडे में श्रीलंका ने शानदार प्रदर्शन करते हुए जिम्बाब्वे को 8 विकेट से हरा दिया। श्रीलंका को जिम्बाब्वे ने 311 रनों की चुनौती दी थी जिसे उसने 47.2 ओवर में 2 विकेट खोकर हासिल कर लिया। श्रीलंका की जीत में निरोशन डिकवेला ने 102 रन और धनुष्का गुणाथिलका ने 116 रनों की शानदार शतकीय पारी खेली। उपुल थरंगा ने नाबाद 44 और कुसल मेंडिस ने नाबाद 28 रन बनाकर श्रीलंका को 5 मैचों की सीरीज में 2-1 से आगे कर दिया।

श्रीलंका की जीत

जिम्बाब्वे के 310 रनों के जवाब में श्रीलंका ने धमाकेदार शुरुआत की। ओपनर गुणाथिलके और डिकवेला ने श्रीलंका को जबर्दस्त शुरुआत दिलाई। दोनों ने पहले ही ओवर से खुलकर बल्लेबाजी की। 10 ओवर के पहले पावर प्ले में इस जोड़ी ने 69 रन बना डाले। श्रीलंका ने सिर्फ 14.3 ओवर में स्कोर को 100 रन के पार पहुंचा दिया। इस बीच विकेटकीपर निरोशन डिकवेला ने 52 गेंदों में अपना अर्धशतक पूरा किया। जल्द ही गुणाथिलका ने भी 49 गेंद में अपने 50 रन पूरे किए।

अर्धशतक जमाने के बाद डिकवेला और गुणाथिलके की जोड़ी ने और तेजी से बल्लेबाजी की और 23.2 ओवर में टीम के स्कोर को 150 के पार पहुंचा दिया। देखते ही देखते इन दोनों बल्लेबाजों ने अपनी साझेदारी 200 रनों तक पहुंचा दिया। इस दौरान निरोशन डिकवेला ने अपने करियर का दूसरा वनडे शतक पूरा किया। कुछ देर बाद गुणाथिलका ने भी 101 गेंदों में वनडे करियर का दूसरा शतक जमाया। श्रीलंका का पहला विकेट 37वें ओवर में डिकवेला के तौर पर गिरा। डिकवेला 102 रन बनाकर वॉलर का शिकार बने। 8 रन के बाद गुणाथिलका भी 116 रन के निजी स्कोर पर सीन विलियम्स को विकेट दे बैठे।

दो विकेट गिरने के बाद उपुल थरंगा और कुसल मेंडिस ने शानदार बल्लेबाजी करते हुए श्रीलंका को जीत की दहलीज तक पहुंचा दिया। इन दोनों बल्लेबाजों के बीच सिर्फ 57 गेंद में नाबाद 75 रनों की साझेदारी हुई। श्रीलंकाई टीम ने 311 रनों का लक्ष्य 16 गेंद पहले ही हासिल कर लिया। ये भी पढ़ें: क्रिकेट के खेल में मनाया गया दुनिया का सबसे ‘अजीबोगरीब जश्न’

मसाकद्जा का शतक गया बेकार

इससे पहले जिम्बाब्वे ने पहले बल्लेबाजी करते हुए 50 ओवरों में 8 विकेट खोकर 310 का स्कोर बनाया। जिम्बाब्वे की तरफ से हैमिल्टन मसाकाजा ने बेहतरीन बल्लेबाजी करते हुए शानदार शतक लगाया। हैमिल्टन ने (111) रनों की पारी खेली। हैमिल्टन के अलावा तरिसाई मुसाकांडा ने (48) और सीन विलियम्स ने (43) रनों की पारी खेली। श्रीलंका की तरफ से एसेला गुणारत्ने और वनीडू हसारंगा ने 2-2 खिलाड़ियों को आउट किया।