sri lanka cricket s disciplinary committee recommends two year bans for danushka gunathilaka and kusal mendis
निरोशन डिकवेला @ICCTwitter

श्रीलंका के 3 क्रिकेटरों ने हाल ही में बायो बबल तोड़कर अपनी टीम के साथ-साथ अपनी प्रतिद्वंद्वी टीम के खिलाड़ियों की जान संकट में डाली थी. इस मामले की जांच के लिए अब श्रीलंका क्रिकेट (SLC) ने 5 सदस्यीय अनुशासन समिति ने जांच की और अब उसने सिफारिश की है कि नियम तोड़ने वाले 2 खिलाड़ी धुनुष्का गुणाथिलाका और कुसल मेंडिस पर दो-दो साल का प्रतिबंध लगाया जाए, जबकि विकेटकीपर बल्लेबाज निरोशन डिकवेला पर 18 महीने का यह बैन लगाया जाए.

श्रीलंका के इन तीनों खिलाड़ियों ने इंग्लैंड दौरे के दौरान बायो बबल को तोड़ा था. इन दिनों दुनिया भर में कोरोना वायरस (Coronaviurs) के चलते सभी खेल गतिविधियां जैव सुरक्षित बायो बबल में खेली जा रही हैं.

इन खिलाड़ियों ने बायो बबल तोड़कर सभी की चिंताएं बढ़ा दी थीं. इस जुर्म के लिए उन पर 25,000 डॉलर का जुर्माना भी लगाया गया है. इन तीनों ने जून में इंग्लैंड के खिलाफ तीसरे वनडे मैच से पहले डरहम में कोविड सुरक्षा के लिए बनाया गया वह बबल तोड़ा था.

इन तीनों को तुरंत ही निलंबित करके वापस स्वदेश भेज दिया गया था. एक न्यायधीश की अगुवाई वाली 5 सदस्यीय अनुशासन समिति ने इन तीनों को दोषी पाया है.

भारत के खिलाफ वनडे और टी20 सीरीज के लिए इन तीनों के नाम पर विचार नहीं किया गया था. एसएलसी के एक अधिकारी ने कहा कि समिति की सिफारिशों को अभी एसएलसी कार्यकारिणी की मंजूरी मिलनी बाकी है.