Sri Lanka Sport Minister denied Fawad Choudhary’s claim that India influenced SL players for not to play in Pakistan
Lasith Malinga (R), Fawad Chaudhary(L)

लसिथ मलिंगा, दिमुथ करुणारत्‍ने सहित श्रीलंका की टीम के 10 मुख्‍य खिलाड़ियों ने आगामी पाकिस्‍तान दौरे पर जाने से इंकार कर दिया। इसके बाद पाकिस्‍तान सरकार से विज्ञान एवं प्रौद्योगिकी मंत्री फवाद चौधरी ने भी इसपर प्रतिक्रिया दी। चौधरी ने इसे भारत के दबाव में खिलाड़ियों द्वारा लिया गया कदम बताया। इस मामले में बुधवार को अब श्रीलंका की तरफ से भी प्रतिक्रिया दी गई।

पढ़ें:- SLC ने मलिंगा, करुणारत्‍ने सहित इन 10 खिलाड़ियों को PAK दौरे पर नहीं जाने की इजाजत दी

श्रीलंका के खेल मंत्री हरिन फर्नांडो ने पाकिस्‍तान के आरोपों का खंडन किया। उन्‍होंने अपने ट्विटर पर लिखा, “श्रीलंका के खिलाड़ियों द्वारा भारत के दबाव में पाकिस्‍तान जाने की खबरों में कोई दम नहीं है। कुछ खिलाड़ियों ने पाकिस्‍तान नहीं जाने का फैसला किया है। उनका यह निर्णय पूरी तरह से साल 2009 में हुई घटना पर आधारित है।”

अपने ट्वीट में उन्‍होंने आगे लिखा, “हम अपने खिलाड़ियों के निर्णय का सम्‍मान करते हैं। जिसके चलते पाकिस्‍तान दौरे पर हमने एक ऐसी टीम चुनी है, जिसमें खिलाड़ी पाकिस्‍तान जाकर खेलने के लिए तैयार हैं। हमारे पास अच्‍छी स्‍ट्रैंथ वाली टीम है। उम्‍मीद करते हैं कि हमारी टीम पाकिस्‍तान को पाकिस्‍तान में हरा पाएगी।”

पढ़ें:- टेस्ट में अपेक्षाओं पर खरे उतरे हैं रिषभ पंत, वनडे को समझने में लगेगा समय: संजय बांगड़

बता दें कि साल 2009 में पाकिस्‍तान में श्रीलंका की टीम पर हुए आतंकी हमले के बाद से ही वहां अंतरराष्‍ट्रीय क्रिकेट प्रभावित है। अधिकांश बड़े देश पाकिस्‍तान में जाकर क्रिकेट खेलने से परहेज करते हैं। जिसके कारण पाकिस्‍तान यूएई को अपने होम ग्राउंड की तरह इस्‍तेमाल करता आ रहा है।