अक्षर पटेल © Getty Images
अक्षर पटेल © Getty Images

भारत और श्रीलंका के बीच खेले जा रहे पहले वनडे मैच में अक्षर पटेल ने शानदार वापसी की। अक्षर ने श्रीलंका के खिलाफ 3 खिलाड़ियों को आउट किया और इसके साथ ही उन्होंने अपना नया सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन किया। इससे पहले अक्षर का सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन 39 रन देकर 3 विकेट था। अक्षर ने साल 2015 में इंदौर में दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ अपना सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन किया था लेकिन अब अक्षर ने उस प्रदर्शन को पीछे छोड़कर (34 रन देकर 3 विकेट झटककर) नया सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन करने का कीर्तिमान रचा। ये भी पढ़ें: भारतीय गेंदबाजों के सामने श्रीलंका ने टेके घुटने, टीम इंडिया को 217 रनों का लक्ष्य

अक्षर पटेल ने 10 ओवरों में 34 रन देकर 3 विकेट झटके। अक्षर ने लगभग 1 साल बाद टीम इंडिया में वापसी की है। इससे पहले अक्षर ने अपना आखिरी वनडे मैच 29 अक्टूबर 2016 को न्यूजीलैंड के खिलाफ खेले थे। हालांकि इसके बाद वो टीम से बाहर हो गए थे लेकिन अब श्रीलंका के खिलाफ उन्होंने शानदार वापसी की और 3 बड़े विकेट झटके। अक्षर ने कुसल मेंडिस (36), वनीडू हसारंगा (2) और लक्षण संदाकन (5) को आउट कर श्रीलंका को समेटने में आहम भूमिका निभाई।

आपको बता दें कि श्रीलंका ने भारत के सामने जीत के लिए 217 रनों का लक्ष्य रखा है। श्रीलंका की टीम अपने कोटे के 50 ओवर भी नहीं खेल सकी और सिर्फ 43.2 ओवर में ऑल आउट हो गई। श्रीलंका ने 216/10 का स्कोर खड़ा किया। श्रीलंका की तरफ से सबसे ज्यादा रन निरोशन डिकवेला (64) ने बनाए। मैथ्यूज (36) पर नाबाद रहे। वहीं भारत की तरफ से अक्षर पटेल ने (3), केदार जाधव ने (2), युजवेंद्र चहल ने (2) और जसप्रीत बुमराह ने (2) विकेट हासिल किया। टॉस जीतकर पहले बल्लेबाजी करने उतरी श्रीलंका को डिकवेला और करुणारत्ने ने शानदार शुरुआत दिलाई। दोनों बल्लेबाजों ने मैदान पर आते ही तेज गति से रन बनाए और श्रीलंका को तेज शुरुआत दी।

दोनों बल्लेबाजों ने स्कोर को 50 के पार पहुंचा दिया। जब दोनों बल्लेबाज टिकते दिख रहे थे तभी करुणारत्ने (35) रन बनाकर चहल की गेंद पर राहुल को कैच थमा बैठे। तीसरे नंबर पर खेलने आए कुसल मेंडिस ने डिकवेला का अच्छा साथ दिया और दोनों ने स्कोर को 100 के पार पहुंचा दिया। इसी बीच डिकवेला ने अपना अर्धशतक भी पूरा कर लिया। हालांकि जरूरत से ज्यादा तेज खेलने के चक्कर में डिकवेला (64) रन बनाकर आउट हो गए और श्रीलंका का दूसरा विकेट भी गिर गया। 139 रन पर 2 विकेट खोने के बाद श्रीलंका की टीम लड़खड़ा गई और विकेटों की झड़ी लग गई।

139 पर 2 से टीम का स्कोर 178 रन पर 7 विकेट हो गया। इस दौरान टीम ने मेंडिस (36), थरंगा (13), कपुगेदेरा (1), हसारंगा (2), परेरा (0) के विकेट खो दिए। 7 विकेट गिर जाने के बाद श्रीलंका की टीम पर भारी दबाव आ गया। इसी बीच टीम का आठवां विकेट भी गिर गया और संदाकन (5) पर आउट हो गए और टीम के लिए 200 रन बनाना भी चुनौती नजर आने लगा था। इसी बीच मैथ्यूज ने कुछ अच्छे शॉट खेले और स्कोर को 200 के पार पहुंचा दिया। अभी टीम का स्कोर 209 ही पहुंचा था कि मलिंगा (8) भी चहल की गेंद पर स्टंप आउट होकर पवेलियन लौट गए। आखिरी विकेट के रूप में विश्व फर्नांडो (0) पर आउट हो गए और टीम 216 रनों पर सिमट गई।