निरोशन डिकवेला, दनुष्का गुनातिलका © AFP
निरोशन डिकवेला, दनुष्का गुनातिलका © AFP

वनडे क्रिकेट इतिहास में जो आजतक नहीं हुआ, वो श्रीलंका के निरोशन डिकवेला, दनुष्का गुनातिलका की जोड़ी ने कर दिखाया। डिकवेला और दनुष्का गुनातिलका वनडे क्रिकेट के पहले ऐसे जोड़ीदार बन गए हैं जिन्होंने लगातार 2 बार दोहरे शतक की साझेदारी की है। इससे पहले कभी किसी भी जोड़ी ने वनडे क्रिकेट में लगातार दो दोहरे शतक की साझेदारी नहीं की। डिकवेला ने इस रिकॉर्ड को जिम्बाब्वे के खिलाफ हंबनटोटा में खेले जा रहे चौथे वनडे में तोड़ा। इस मुकाबले में निरोशन डिकवेला और गुनातिलका के बीच 209 रन की साझेदारी हुई वहीं पिछले मैच में इन दोनों ने 229 रनों की साझेदारी की थी।

डिकवेला का लगातार दूसरा शतक

गुनातिलका के साथ अपनी रिकॉर्डतोड़ दोहरे शतक की साझेदारी के दौरान डिकवेला ने शानदार शतक लगाया। डिकवेला ने 118 गेंद में 116 रन बनाए जिसमें उन्होंने 8 चौके लगाए। पिछले मुकाबले में भी डिकवेला ने शतकीय पारी खेली थी और 102 रन बनाए थे। वहीं तीसरे वनडे में 116 रन बनाने वाले गुनातिलका इस मैच में शतक से चूक गए और 87 रन बनाकर आउट हो गए। गुनातिलका को वॉलर ने बोल्ड कर पैवेलियन भेजा। ये भी पढ़ें-श्रीलंका बनाम जिम्बाब्वे, चौथे वनडे का स्कोरकार्ड

आपको बता दें डिकवेला और गुनातिलका ने भले ही अबतक मिलकर श्रीलंका के लिए शानदार प्रदर्शन किया हो लेकिन इन दोनों के बीच सीरीज में सबसे ज्यादा रन बनाने की जंग भी चल रही है। गुनातिलका 4 मैच में 67.75 के औसत से 271 रन बना चुके हैं वहीं डिकवेला के बल्ले से 4 मैच में 65.75 के औसत से 263 रन बना चुके हैं। मतलब गुनातिलका डिकवेला से सिर्फ 8 रन आगे हैं। वैसे सीरीज में डिकवेला दो शतक लगा चुके हैं और गुनातिलका ने एक शतक और दो अर्धशतक लगाए हैं।