जिम्बाब्वे की टीम © Getty Images
जिम्बाब्वे की टीम © Getty Images

क्रिकेट के मैदान से अकसर खबरें आती हैं बल्लेबाज या गेंदबाज को चोट लगी और वो अस्पताल पहुंच गया लेकिन जिम्बाब्वे के बाएं हाथ के बल्लेबाज रायन बर्ल के साथ कुछ अलग ही घटना घट गई। रायन बर्ल मछली खाने के बाद अस्पताल में भर्ती हो गए। हंबनटोटा में श्रीलंका के खिलाफ तीसरे वनडे से पहले बर्ल ने मछली खाई जिससे उन्हें एलर्जी रिएक्शन हो गया और उन्हें अस्पताल में भर्ती कराना पड़ा। हालांकि अब रायन बर्ल की तबीयत सही है और उन्हें अस्पताल से छुट्टी मिल गई है।

रायन ने खुद ट्विटर पर डॉक्टर और अस्पताल के अन्य स्टाफ के साथ अपनी तस्वीर को पोस्ट कर इस बात की जानकारी दी. रायन ने कहा, ‘आप सबका बहुत-बहुत शुक्रिया, हंबनटोटा अस्पताल के डॉक्टर्स और सभी स्टाफ को बहुत धन्यवाद जिन्होंने मुझे ठीक होने में मदद की।’ इससे पहले जिम्बाब्वे क्रिकेट बोर्ड के ट्विटर अकाउंट से भी रायन बर्ल की एक तस्वीर पोस्ट हुई जिसमें वो अस्पताल के बिस्तर पर लेटे हुए दिख रहे थे। उनके मुंह पर ऑक्सीजन मास्क भी लगा हुआ था।

जिम्बाब्वे का ये खिलाड़ी अभी हाल ही में अपनी बेईमानी के लिए सुर्खियों में आया था। रायन बर्ल ने नीदरलैंड्स के खिलाफ मुकाबले में एक कैच को पकड़ने का दावा किया था जिसमें तस्वीरों से उनकी पोल खुल गई थी। रायन बर्ल ने मैच के दौरान बाउंड्री लाइन पर कैच लपकने का दावा किया लेकिन वो छक्का था। कैच लपकते वक्त बर्ल का पैर बाउंड्री लाइन के पार था लेकिन उन्होंने इसके बावजूद भी कैच पकड़ने का दावा किया। दरअसल इस मैच में थर्ड अंपायर नहीं था इसीलिए विरोधी टीम नीदरलैंड्स ने उनकी बात मान ली लेकिन मैच के बाद तस्वीरों से खुलासा हुआ कि बर्ल का पैर बाउंड्री के पार था। ये भी पढ़ें-विराट कोहली ने बनाया वर्ल्ड रिकॉर्ड, क्रिकेट के ‘भगवान’ सचिन तेंदुलकर को छोड़ा पीछे

रायन बर्ल की ये बेईमानी कैमरे में कैद हो गई और देखते ही देखते उनकी कैच लेने की तस्वीर सोशल मीडिया पर वायरल हो गई। ट्विटर पर फैंस ने रायन बर्ल की खूब खिंचाई की, जिसके बाद उन्हें माफी मांगनी पड़ी।